भारत को एक और कामयाबी, परमाणु संपन्न अग्नि प्राइम मिसाल का सफल परीक्षण

भारत ने एक और उपलब्धि हासिल करते हुए सोमवार सुबह अग्नि सीरीज की नई मिसाइल अग्नि प्राइम (Agni Prime Missile) का सफल परीक्षण किया।
 
भारत को एक और कामयाबी, परमाणु संपन्न अग्नि प्राइम मिसाल का सफल परीक्षण

नई दिल्‍ली। भारत ने एक और उपलब्धि हासिल करते हुए सोमवार सुबह अग्नि सीरीज की नई मिसाइल अग्नि प्राइम (Agni Prime Missile) का सफल परीक्षण किया। नई परमाणु-सक्षम मिसाइल पूरी तरह से मिश्रित सामग्री से बनी है। अधिकारियों के मुताबिक, अग्नि प्राइम (Agni Prime Missile) का टेस्ट पूरी तरह सफल रहा।

डीआरडीओ अधिकारियों ने बताया कि ओडिशा के पूर्वी तट के किनारे स्थित विभिन्न टेलीमेट्री और रडार स्टेशनों ने मिसाइल को ट्रैक और मॉनिटर किया। इसने बेहद सटीकता के साथ सभी मिशन पूरा करते हुए सफलतापूर्वक टारगेट को नष्ट किया। 

डीआरडीओ ने जानकारी देते हुए कहा कि अग्नि प्राइम (Agni Prime Missile) मिसाइलों के अग्नि सीरीज का एक नई पीढ़ी का उन्नत संस्करण है। यह एक कनस्तरयुक्त मिसाइल है, जिसकी मारक क्षमता 1000 से 2000 किलोमीटर के बीच है।

अग्नि प्राइम मिसाइल की खूबियां:

अग्नि प्राइम (Agni Prime Missile) मिसाइल को DRDO ने विकसित किया है। इसकी मारक क्षमता 1000 से 1500 किमी है, लेकिन यह मिसाइल अत्याधुनिक उपकरणों से लैस है। इस मिसाइल के परीक्षण के बाद भारत के मिसाइल बेड़े में एक और नई मिसाइल शामिल की जाएगी, जबकि दूसरी ओर भारत की रक्षा शक्ति बढ़ेगी।

गौरतलब है कि रक्षा विभाग और रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की ओर से भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा समय-समय पर चांदीपुर, बालेश्वर में एलसी 1 एलसी 2 और एलसी 3 नाम के परीक्षण केंद्रों और कलाम में अब्दुल द एलसी4 परीक्षा केंद्र द्वीप को समय-समय पर छोटे रॉकेटों से लेकर विभिन्न प्रकार की मिसाइलों और भारी शुल्क वाली मिसाइलों का परीक्षण किया गया है, जिसमें बैलिस्टिक मिसाइल और क्रूज मिसाइल दोनों शामिल हैं।
 

FROM AROUND THE WEB