बंगाल में फिर खूनी खेल, बीजेपी सांसद के घर के पास बम से हमला, चुनाव आयोग जाएगी बीजेपी

पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मियों के बीच हिंसा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पश्चिम बंगाल में बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह (BJP MP Arjun Singh) के आवास के पास बम से हमला किया गया।
 
बंगाल में फिर खूनी खेल, बीजेपी सांसद के घर के पास बम से हमला, चुनाव आयोग जाएगी बीजेपी
पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मियों के बीच हिंसा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पश्चिम बंगाल में बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह (BJP MP Arjun Singh) के आवास के पास बम से हमला किया गया

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मियों के बीच हिंसा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पश्चिम बंगाल में बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह (BJP MP Arjun Singh) के आवास के पास बम से हमला किया गया। इस हमले में 3 लोग जख्मी हो गए। उत्तर 24 परगना के भाटपारा इलाके में हुई इस घटना को लेकर अब बीजेपी चुनाव आयोग जाने की तैयारी में है। बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय ने कहा कि पार्टी इस मामले को लेकर चुनाव आयोग जाएगी।

समाचार एजेंसी एएननाई के मुताबिक, हमले को लेकर भाजपा सांसद अर्जुन सिंह (BJP MP Arjun Singh) ने दावा किया कि करीब 15 स्थानों पर बम फेंके गए और पुलिस द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरों को तीन लोगों और उनके सहयोगियों द्वारा तोड़ दिया गया। उन्होंने कहा कि उनके आवास मजदूर भवन के पास दर्जनों बम से हमले किए गए। उन्होंने टीएमसी पर इसका आरोप लगाया है और कहा कि हम इस मामले को लेकर चुनाव आयोग जाएंगे।

एक बच्चे समेत 3 लोग घायल

इधर उत्तर 24 परगना के भाटपारा के जगदल इलाके में हुई बम फेंकने की घटना पर पुलिस अधिकारी एसीपी चौधरी ने कहा कि सांसद (BJP MP Arjun Singh) के आवास के पास फेंके गए इस बम हमले में एक बच्चा समेत तीन लोग घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस इस हमले और भाजपा सासंद के आरोपों की जांच में जुट गई है। 

इस घटना के बाद बीजेपी नेता और पार्टी के पश्चिम बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि टीएमसी हिंसा की राजनीति का पर्याय बन चुकी है। आचार संहिता लागू होने के बाद भी गुंडे बमबारी कर रहे हैं और गोलियां बरसा रहे हैं। चुनाव आयोग को इसे चेतावनी के तौर पर लेना चाहिए, वरना हमें नहीं लगता कि वोटिंग शांतिपूर्ण तरीके से होगी। 

बंगाल में होने है वोटिंग

बता दें पश्चिम बंगाल विधानसभा का कार्यकाल 30 मई को समाप्त हो रहा है। 17वें विधानसभा चुनाव के लिए  7,34,07,832 वोटर्स उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला 27 मार्च से करेंगे। पश्चिम बंगाल में कुल आठ चरणों में चुनाव होंगे। पहले चरण में 30 सीटों पर 27 मार्च को वोटिंग होगी। वहीं, दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल को, तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को, चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवें चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें और अंतिम चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। वहीं, पांच राज्यों में एक साथ 2 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

FROM AROUND THE WEB