CM योगी की जनसंख्या नीति पर BJP के अपनों ने ही उठाए सवाल, VHP के बाद नितीश ने भी दिया बड़ा बयान

 
CM योगी की जनसंख्या नीति पर BJP के अपनों ने ही उठाए सवाल, VHP के बाद नितीश ने भी दिया बड़ा बयान

NewzBox Desk: UP Population Control Bill: उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) द्वारा लाई गई नई जनसंख्या नीति (Population Policy) पर विश्व हिन्दू परिषद (Vishva Hindu Parishad) और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) ने सवाल खड़े किए हैं। 

विश्व हिन्दू परिषद (Vishva Hindu Parishad) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार (Alok Kumar) ने इस मसले पर यूपी लॉ कमिशन को चिट्ठी लिखी है। विश्व हिन्दू परिषद द्वारा बिल में शामिल एक बच्चे की नीति पर सवाल खड़े कर दिए हैं। VHP का कहना है कि पब्लिक सर्वेंट या अन्य को एक बच्चा होने पर इंसेटिव देने की बात कही गई है। इस नियम को बदलना चाहिए। 

'वन चाइल्ड पॉलिसी का नकारात्मक प्रभाव'

विश्व हिन्दू परिषद (Vishva Hindu Parishad) की ओर से कहा गया है कि दो बच्चों वाली नीति जनसंख्या नियंत्रण (UP Population Control Bill) की ओर ले जाती है। लेकिन दो से कम बच्चों की नीति आने वाले समय में कई नकारात्मक प्रभाव पैदा कर सकती है।

विश्व हिन्दू परिषद द्वारा अपनी चिट्ठी में सवाल खड़े किए गए हैं कि अगर वन चाइल्ड पॉलिसी लाई जाती है तो इससे सामाज में आबादी का असंतुलन पैदा होगा। ऐसे में सरकार को इस बारे में फिर से विचार करना चाहिए, वरना इसका असर नेगेटिव ग्रोथ पर हो सकता है।

इस तरह के कदम से बचे सरकार'

इस चिट्ठी में कहा गया है कि वीएचपी सरकार द्वारा लाई गई जनसंख्या नीति, दो बच्चे पैदा करने की नीति का समर्थन करते हैं। लेकिन इसी के साथ कई सवाल भी खड़े किए गए हैं।

विश्व हिन्दू परिषद द्वारा कहा गया है कि असम, केरल जैसे राज्यों में जनसंख्या के ग्रोथ में असंतुलन देखा गया है। ऐसे में उत्तर प्रदेश को इस तरह के कदम से बचना चाहिए और लाई गई ताजा जनसंख्या नीति में बदलाव करना चाहिए।

किस नियम पर है आपत्ति?

बता दें कि नई जनसंख्या नीति में इस बात को भी शामिल किया गया है कि अगर कोई अपनी इच्छा से नसबंदी करवाता है, या एक ही बच्चा करता है, तो उसे सरकार की ओर से इंसेटिव दिया जाएगा। इसमें सरकार की ओर से कई सुविधाएं दी जा सकती हैं। किसी नौकरी पेशा को टैक्स में छूट जैसा फायदा दिया जा सकता है, तो वहीं अगर कोई नौकरी पेशा नहीं है तो उसे सरकारी योजनाओं का फायदा मिल पाएगा।

वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, सिर्फ कानून बनाकर जनसंख्या पर नियंत्रण करना संभव नहीं है, जब महिलाएं शिक्षित होंगी तो अपने आप प्रजनन दर घटेगा।

नीतीश कुमार ने कहा, कुछ लोग सोचते हैं कि सिर्फ कानून बनाने से कुछ हो जाएगा, सबकी अपनी अपनी सोच है। लेकिन हम तो महिलाओं को शिक्षित करने पर काम कर रहे हैं। इसका असर सभी समुदायों पर पड़ेगा।

FROM AROUND THE WEB