तीसरी लहर से पहले बच्चों को मिल सकती है कोरोना वैक्सीन, सरकार ने दिए संकेत

कोरोना वायरस की तीसरी लहर (Corona Virus Third Wave) की आशंका के बीच बच्चों के लिए वैक्सीन (Vaccine for Kids) जल्द आ सकती है। केंद्र सरकार ने संकेत दिए हैं कि बच्चों के लिए कोरोना का टीका जल्द आ सकता है। सरकार के अनुसार, जायडस कैडिला (Zydus Cadila) के टीके को जल्द मंजूरी दी जा सकती है
 
तीसरी लहर से पहले बच्चों को मिल सकती है कोरोना वैक्सीन, सरकार ने दिए संकेत

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की तीसरी लहर (Corona Virus Third Wave) की आशंका के बीच बच्चों के लिए वैक्सीन (Vaccine for Kids) जल्द आ सकती है। केंद्र सरकार ने संकेत दिए हैं कि बच्चों के लिए कोरोना का टीका जल्द आ सकता है। सरकार के अनुसार, जायडस कैडिला (Zydus Cadila) के टीके को जल्द मंजूरी दी जा सकती है, जिसके परीक्षण 12-18 साल की आयु के बच्चों पर भी हुए हैं।

दैनिक अखबार 'हिंदुस्तान' की रिपोर्ट के मुताबिक, नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने बताया कि अभी कोवैक्सीन (Corona Virus Third Wave) ने बच्चों पर परीक्षण (Vaccine for Kids)  शुरू किए हैं, लेकिन इसे पूरा होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा, क्योंकि परीक्षण प्रतिरोधक क्षमता के होते हैं। जबकि जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की वैक्सीन के परीक्षण बच्चों पर हो चुके हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले दो सप्ताह में वह लाइसेंस के लिए आ सकती है। टीके को मंजूरी देते समय इसे बच्चों को देने पर भी निर्णय लिया जा सकता है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की वैक्सीन के तीसरे चरण (Corona Virus Third Wave) के परीक्षण पूरे चुके हैं। ट्रायल में 800-100 बच्चे भी शामिल हैं, जिनकी उम्र 12-18 साल के बीच है। इसलिए इस टीके को 12-18 साल के आयु वर्ग के बच्चों के लिए भी मंजूरी मिलने की संभावना है और पॉल ने भी ऐसे संकेत दिए हैं। हालांकि, अंतिम फैसला एक विशेषज्ञ समूह ट्रायल के आंकड़ों के आधार पर करता है। यदि दो सप्ताह के भीतर लाइसेंस के लिए आवेदन किया जाता है, तो मुश्किल से एक सप्ताह और मंजूरी की प्रक्रिया में लगेगा। यानी इसी महीने वैक्सीन (Vaccine for Kids) उपलब्ध हो सकती है।

जायडस कैडिला (Zydus Cadila) का टीका (Vaccine for Kids) तीन खुराक वाला है। यह त्वचा में दिया जाने वाला इंट्राडर्मल टीका है। इसे इंजेक्शन के जरिये नहीं दिया जाता है, बल्कि एक अलग डिवाइस से चमड़ी में डाला जाता है। इसलिए जानकारों का मानना है कि बच्चों (Corona Virus Third Wave)  के लिए यह टीका ज्यादा उपयोगी होगा। अगले चरण में कैडिला इसका परीक्षण 12 साल से छोटे उम्र के बच्चों पर भी करेगा। टीके को केंद्र सरकार के नेशनल बॉयोफॉर्मा मिशन के तहत सहायता दी गई है। वहीं, कैडिला के प्रवक्ता ने कहा कि टीके के तीनों चरण के परीक्षण पूरे हो चुके हैं तथा आंकड़े एकत्र किए जा रहे हैं। उसके बाद मंजूरी के लिए ड्रग कंट्रोलर को आवेदन किया जाएगा।

FROM AROUND THE WEB