नंदीग्राम घटना की जांच अब करेग पश्चिम बंगाल सीआईडी, प्रचार के दौरान घायल हुई थी ममता

नंदीग्राम में चुनावी रैली के दौरान घायल हुई पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata injured in Nandigram) के साथ हुई कथित घटना की जांच अब पश्चिम बंगाल सीआईडी (CID) करेगी।
 
नंदीग्राम घटना की जांच अब करेग पश्चिम बंगाल सीआईडी, प्रचार के दौरान घायल हुई थी ममता

कोलकाता। नंदीग्राम में चुनावी रैली के दौरान घायल हुई पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata injured in Nandigram) के साथ हुई कथित घटना की जांच अब पश्चिम बंगाल सीआईडी (CID) करेगी। सीआईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अधिकारियों की एक टीम जल्द ही पूर्व मेदिनीपुर जिले में घटनास्थल का दौरा करेगी और गवाहों के बयान दर्ज करेगी।

अधिकारी ने बताया कि तृणमूल कांग्रेस के नेता शिख सुफियान द्वारा इस घटना को लेकर एक शिकायत दर्ज कराई, जिसके आधार पर नंदीग्राम पुलिस थाने में पहले ही मामला दर्ज किया जा चुका है। यह घटना (Mamata injured in Nandigram) 10 मार्च को हुई थी। उन्होंने बताया कि अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं 341 और 323 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

बता दें कि पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी (Mamata injured in Nandigram) ने आरोप लगाया कि बिरुलिया बाजार क्षेत्र में उन पर हमला किया गया, जिसमें वह घायल हो गई थीं। इस घटना के बाद चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री के सुरक्षा निदेशक विवेक सहाय और पूर्व मेदिनीपुर के एसपी प्रवीण प्रकाश को निलंबित कर दिया था।

राज्य में विधानसभा चुनावों से पहले यह घटना एक मुद्दा बन गई। इस घटना के बाद ममता (Mamata injured in Nandigram) ने 'व्हीलचेयर' पर बैठकर प्रचार करना शुरू किया। बीजेपी समेत विपक्षी पार्टियों ने इसे लेकर ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए इसे सहानुभूति आधार पर वोट हासिल करने की एक चाल बताया था।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की कुल 294 विधानसभा सीटों पर आठ चरणों में चुनाव होंगे। पहले चऱण की वोटिंग 27 मार्च को होगी। नतीजे 2 मई को घोषित किए जाएंगे। इस बार मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं। इस सीट पर बीजेपी ने शुभेंदु अधिकारी को उम्मीदवार बनाया है। शुभेंदु अधिकारी पिछले साल दिसंबर में टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। नंदीग्राम को शुभेंदु अधिकारी का गढ़ माना जाता है।

FROM AROUND THE WEB