सिद्धू को बड़ी जिम्मेदारी देगी कांग्रेस! टिकट आवंटन में निभा सकते हैं अहम भूमिका

मीडियारिपोर्ट्स की मानें तो इस मुलाकात में कांग्रेस के दूसरे नेताओं के मुकाबले सिद्धू को वीआईपी ट्रीटमेंट मिलने से जहां पंजाब के कांग्रेस नेता नाराज हैं, वहीं सिद्धू को कांग्रेस हाईकमान अब बड़ी जिम्मेदारी सौंप सकती है।
 
सिद्धू को बड़ी जिम्मेदारी देगी कांग्रेस! टिकट आवंटन में निभा सकते हैं अहम भूमिका

NewzBox Desk: पंजाब में मचे सियासी घमासान (Punjab Pilitical Crisis) के बीच जहां पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) सहित लगभग सभी विधायक और मंत्री दिल्ली में कांग्रेस हाईकमान (Congress High Command) के दरबार में हाजिरी लगा चुके हैं।

वहीं अंत में पूर्व मंत्री व फायर ब्रांड नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot singh sidhu) ने भी दिल्ली जाकर सबसे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) से मुलाकात की। इसके बाद वह वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से भी मिले।

मीडियारिपोर्ट्स की मानें तो इस मुलाकात में कांग्रेस (Congress) के दूसरे नेताओं के मुकाबले सिद्धू (Navjot singh sidhu) को वीआईपी ट्रीटमेंट मिलने से जहां पंजाब के कांग्रेस नेता नाराज हैं, वहीं सिद्धू को कांग्रेस हाईकमान अब बड़ी जिम्मेदारी सौंप सकती है। पंजाब के एक हिंदी दैनिक अखबार की एक रिर्पोट के मुताबिक सिद्धू को हाईकमान कैंपेन कमेटी प्रभारी या टिकट आवंटन यानी चयन कमेटी में भी शामिल कर सकती है।

सिद्धू (Navjot singh sidhu) जब बीते मंगलवार को राहुल गांधी (Rahul Gandhi)से मिलने पहुंचे थे तो उनकी मुलाकात नहीं हो पाई थी। जिसके पंजाब कांग्रेस के नेताओं ने कई मायने निकालने शुरू कर दिए थे। प्रियंका (Priyanka Gandhi Vadra) के बुधवार को एक्टिव होने से पंजाब की सियासत के नए समीकरण सामने आए।

सिद्धू (Navjot singh sidhu) को वीआईपी ट्रीटमेंट मिलने से खफा कांग्रेस नेताओं का मानना है कि सिद्धू विधायक हैं, लेकिन दूसरे विधायकों को नजर अंदाज करके उन्हे वीआईपी ट्रीटमेंट देना ठीक नहीं है। कांग्रेस के कुछ नेताओं का यह भी कहना है कि हाई कमान को टकसाली कांग्रेसियों से भी बातचीत करनी चाहिए। 

पूर्व क्रिकेटर (Navjot singh sidhu) की हाईकमान से हुई मुलाकात को लेकर पंजाब कोंग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि वह चाहते हैं कि कांग्रेस के नेताओं में आपसी मतभेद खत्म होने चाहिए। उन्होंने बताया कि उन्हें कांग्रेस हाईकमान ने अभी नहीं बुलाया है। जाखड़ ने कहा कि उम्मीद है कि 2022 के चुनाव से पहले कांग्रेस के आपसी मसले सुलझ जाएंगे।

शिअद प्रधान सुखबीर ने सिद्धू को ‘मिस गाइडमिसाइल’ कहा है उन्होंने कहा है कि यह मिसाइल कहीं भी चल सकती है। जिसके जवाब में सिद्धू भी नहीं चूके और कहा कि वह मिसगाइडिड नहीं हैं और निशाने पर अटैक करते हैं। उनका लक्ष्य सुखबीर के ‘भ्रष्ट व्यवसाय’ नष्ट करना है।

FROM AROUND THE WEB