ओडिशा समेत इन राज्यों में चक्रवाती तूफान यास का खतरा, कोस्ट गार्ड से लेकर मेडिकल टीमें अलर्ट

रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard) ने पूर्वी तट पर चक्रवाती तूफान यास (Yaas Cyclone) को देखते हुए एहतियाती कदम उठाए हैं।
 
ओडिशा समेत इन राज्यों में चक्रवाती तूफान यास का खतरा, कोस्ट गार्ड से लेकर मेडिकल टीमें अलर्ट

नई दिल्ली। महाराष्ट्र और गुजरात में भीषण तबाही मचा चुके चक्रवाती तूफान तौकते के बाद अब दक्षिण पूर्वी राज्यों में चक्रवचाती तूफान यास का खतरा मंडराने लगा है। रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard) ने पूर्वी तट पर चक्रवाती तूफान यास (Yaas Cyclone) को देखते हुए एहतियाती कदम उठाए हैं। दरअसल, उत्तरी अंडमान सागर और इससे सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है।

भारत के मौसम विभाग (IMD) ने जानकारी दी है कि दो दिनों में उत्तरी अंडमान सागर और उससे सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की पूरी संभावना है। इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 24 मई तक एक चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की भी संभावना है, जिसे चक्रवात यास (Yaas Cyclone) नाम दिया जाएगा। इसको देखते हुए इंडियन कोस्ट गार्ड (ICG) ने पूर्वी तट पर एहतियाती उपाय करना शुरू कर दिया है। बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान यास, चक्रवात तौकते के अरब सागर से टकराने के कुछ दिनों बाद बन रहा है।

जानकारी के मुताबिक, एंकरेज पर मौजूद जहाजों को शेल्टर और जरूरी सुरक्षा उपाय करने की सलाह दी गई है। नैवेटेक्स वार्निंग नियमित रूप से जारी की जा रही है और क्षेत्र में आने और जाने वाले जहाजों को सतर्क करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा नेट (ISN) सक्रिय किया गया है।

मछुआरों को बंदरगाहों पर लौटने के निर्देश

बंदरगाह अथॉरिटीज, ऑयल रिग ऑपरेटरों , शिपिंग, फिशरीज अथॉरिटीज और फिशरमैन एसोसिएशन को चक्रवात (Yaas Cyclone) बनने की संभावना के बारे में सूचित कर दिया गया है और नावों, जहाजों और फिक्स्ड प्लेटफार्मों की सुरक्षा के लिए संपर्क बनाए रखा जा रहा है।

भारत के पूर्वी तट पर मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया है। कोस्ट गार्ड डोर्नियर और समुद्र में मौजूद जहाज लगातार चक्रवात के बारे में समुद्र में काम कर रहे मछुआरों को मौसम की चेतावनी दे रहे हैं और उन्हें सुरक्षा के लिए पास के बंदरगाह पर लौटने के निर्देश दे रहे हैं। आईसीजी ने संबंधित राज्य और केंद्र शासित प्रदेश सरकारों से मछुआरों और बंदरगाह में मौजूद मछली पकड़ने वाली नौकाओं का लेखा-जोखा रखने की अपील की है।

अलर्ट पर मेडिकल टीम और एम्बुलेंस

इसके अलावा, कोस्ट गार्ड डिजास्टर रिलीफ टीम (DRTs) इंफ्लेटेबल बोट्स, लाइफबेल्ट और लाइफजैकेट के साथ डिजास्टर रिस्पॉन्स ऑपरेशन को शुरू करने के लिए स्टैंडबाय पर हैं। मेडिकल टीमों और एम्बुलेंस को भी मोबिलाइजेशन के लिए स्टैंडबाय पर रखा गया है।

बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान यास (Yaas Cyclone) के मद्देनजर ओडिशा सरकार ने तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। ओडिशा के मुख्य सचिव सुरेश चंद्र महापात्रा ने शुक्रवार को जानकारी दी कि ओडिशा के सभी तटीय और आसपास के जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

FROM AROUND THE WEB