सपा के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर ईडी का एक्शन, 55 करोड़ की संपत्ति कुर्क

उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गायत्री प्रजापति पर शिकंजा कसते हुए 60 संपत्तियां और 57 बैंक अकाउंट सीज कर दिए हैं।
 
सपा के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर ईडी का एक्शन, 55 करोड़ की संपत्ति कुर्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गायत्री प्रजापति पर शिकंजा कसते हुए 60 संपत्तियां और 57 बैंक अकाउंट सीज कर दिए हैं। इन 60 संपत्ति की अनुमानित कीमत करीब 55 करोड़ रुपये आंकी जा रही है।

इस बीच ईडी ने गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) के खिलाफ कोर्ट में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत चार्जशीट भी दाखिल कर दिया है। गौरतलब है कि सपा सरकार के दौरान खनन घोटाले में तत्कालीन खनन मंत्री गायत्री प्रजापति शुरू से ही जांच एजेंसियों के रडार पर हैं।

ईडी ने किए चौंकाने वाले खुलासे

ईडी की जांच में गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) और उनके परिवार को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। ईडी की ओर से कहा गया है कि जो गायत्री प्रजापति और उसकी पत्नी की 2012 तक सिलाई कढ़ाई कर 10 से 15 हजार रुपये महीना कमाते थे, उसी गायत्री प्रजापति की पत्नी महाराजी देवी 2013 में लोनावला में एक आलीशान बंगला खरीदा। पढ़ाई कर रहीं प्रजापति की दो बेटियां प्रॉपर्टी डीलिंग करने लगीं। साल 2013 से 2017 के बीच पत्नी और दो बेटियों के खाते में छह करोड़ 60 लाख रुपये जमा हुए।

ईडी ने 57 बैंक खातों में जमा 3.50 करोड़ रुपये और 60 संपत्ति अटैच की है, जिसकी कुल कीमत करीब 55 करोड़ बताई जा रही गई है। ईडी ने गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) की पत्नी और बेटे-बेटियों के नाम पर चल रहे 32 बैंक खाते, 17 संपत्ति अटैच किया है। गायत्री की कंपनियों के बैंक खाते सीज करते हुए संपत्ति भी अटैच कर दिया है। 

दिसंबर में मारा था छापा

गौरतलब है कि पिछले साल 30 दिसंबर को ईडी ने लखनऊ और अमेठी में गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) के घर, दफ्तर के साथ ही कानपुर में चार्टर्ड अकाउंटेंट के घर भी छापेमारी कर दस्तावेज खंगाले थे। ईडी ने छापेमारी के दौरान लखनऊ, कानपुर, अमेठी समेत कई शहरों में करीब 100 कीमती संपत्ति के दस्तावेज हासिल किए थे। इन संपत्तियों में लोनावला के 5 रॉ हाउस और मुंबई के 4 फ्लैट भी शामिल हैं। इतना ही नहीं दफ्तर से 11.50 लाख रुपये के पुराने नोट और 4.5 लाख के स्टांप पेपर भी मिले थे। इस छापेमारी के बाद ही ईडी ने गायत्री प्रजापति को 18 फरवरी 2021 से कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी।

FROM AROUND THE WEB