बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी और उनके भाई पर FIR, राहत सामग्री चोरी करने का लगा आरोप

पश्चिम बंगाल के कांथी में भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari BJP) और उनके भाई सौमेंदु अधिकारी के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। तृणमूल कांग्रेस ने दोनों नेताओं पर नगर पालिका से राहत सामग्री चोरी करने का आरोप लगाया है।
 
बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी और उनके भाई पर FIR, राहत सामग्री चोरी करने का लगा आरोप

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के कांथी में भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari BJP) और उनके भाई सौमेंदु अधिकारी के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। तृणमूल कांग्रेस ने दोनों नेताओं पर नगर पालिका से राहत सामग्री चोरी करने का आरोप लगाया है। इस सिलसिले में एफआईआर दर्ज की गई है।

नंदीग्राम सीट से ममता के खिलाफ लड़ा था चुनाव

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari BJP)  तृणमूल छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ा था और ममता को करारी मात भी दी थी। चुनाव परिणाम के बाद से ही भाजपा नेता और तृणमूल के बीच मतभेद साफ तौर पर दिख रहा है। भाजपा ने नंदीग्राम से विधायक और कभी ममता बनर्जी की करीबी रहे शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari BJP) को पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष का नेता चुना है।

शुभेंदु के एक करीबी सहयोगी को किया गिरफ्तार

केंद्र ने उनके पिता शिशिर अधिकारी और भाई दिव्येंदु अधिकारी को वाई प्लस कैटेगरी की सुरक्षा दे रखी है। सरकारी नौकरी घोटाला मामले में संलिप्तता को लेकर भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari BJP) के एक करीबी सहयोगी राखल बेरा को गिरफ्तार किया गया है। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है कि बेरा ने जुलाई-सितंबर 2019 के आसपास उससे नौकरी दिलाने के एवज में 2 लाख रुपए लिए। बेरा तत्कालीन तृणमूल कांग्रेस सरकार में सिंचाई विभाग के मंत्री हैं।

शुभेंदु के पिता-भाई को दी वीआईपी सुरक्षा

सूत्रों ने बताया कि रिपोर्ट में दोनों नेताओं पर शारीरिक सुरक्षा के खतरे के मद्देनजर उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने की सिफारिश की गई। सूत्रों ने बताया कि उन्हें पश्चिम बंगाल राज्य में 'वाई प्लस' केंद्रीय सुरक्षा मुहैया करायी गई है और केंद्रीय रिजर्व पुलिस (सीआरपीएफ) को इसकी जिम्मेदारी सौंपी है। उन्होंने बताया कि राज्य में जब भी उनमें से कोई कहीं जाएगा तो करीब चार से पांच सशस्त्र कमांडो उनके साथ होंगे।

TMC छोड़ BJP में हुए थे शामिल

सीआरपीएफ शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari BJP)  को 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा भी देती है। शुभेंदु अधिकारी पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं। शुभेंदु अधिकारी ने टीएमसी से नाता तोड़ लिया था और भाजपा में शामिल हो गए थे। उन्होंने नंदीग्राम सीट से मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी के खिलाफ 2021 का विधानसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। गौरतलब है कि बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले इन दोनों ही नेताओं ने ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी से किनारा कर लिया था और बीजेपी का दामन थाम लिया था।

FROM AROUND THE WEB