हरियाणा बजट 2021: सीएम खट्टर ने किसानों के लिए किए ये ऐलान, 2 जगह फिल्म सिटी बनाने का प्रस्ताव

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) की अगुवाई वाली हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 1.55 लाख करोड़ रुपये का बजट (Haryana Budget 2021) राज्य विधानसभा में पेश कर दिया है।
 
हरियाणा बजट 2021: सीएम खट्टर ने किसानों के लिए किए ये ऐलान, 2 जगह फिल्म सिटी बनाने का प्रस्ताव

चंडीगढ़। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) की अगुवाई वाली हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 1.55 लाख करोड़ रुपये का बजट (Haryana Budget 2021) राज्य विधानसभा में पेश कर दिया है। खट्टर सरकार ने बजट में स्वास्थ्य, कृषि और बुनियादी ढांचा क्षेत्रों पर ज्यादा जोर दिया गया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा विधानसभा में अपना दूसरा बजट पेश किया। बता दें कि खट्टर के पास वित्त मंत्रालय का प्रभार भी है।

राज्य का बजट (Haryana Budget 2021) पेश करते हुए सीएम खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि पिंजौर और गुरुग्राम दोनों को फिल्म सिटी की तहत विकसित किया जाएगा। बजट अनुमानों में राज्य सरकार ने किसी नए टैक्स का प्रस्ताव नहीं किया है। वित्त वर्ष 2021-22 का बजट बढ़ाकर 1,55,645 करोड़ रुपये किया गया है। जो पिछले वित्त वर्ष के 1,37,738 करोड़ रुपये के बजट से 13 प्रतिशत ज्यादा है। बजट एक्सपेंडिचर की बात करें तो इसमें 25 पर्सेंट या 38,718 करोड़ रुपये कैपिटल एक्सपेंडिचर और 75 प्रतिशत या 1,16,927 करोड़ रुपये रेवन्यू एक्सपेंडिचर है। 

खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि कोरोना महामारी ने असाधारण चुनौतियां पैदा की हैं और इसने हमें कई सबक भी सिखाएं हैं। उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि विशेषरूप से इस संकट के समय बजट में उन क्षेत्रों को प्राथमिकता दी जाए, जो अर्थव्यवस्था के दोबारा खड़ा करने के लिए जरूरी है। हमने हेल्थ, एग्रीकल्चर और बुनियादी ढांचे को प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में रखा है।

किसानों के लिए किए ये ऐलान

सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि उनकी सरकार हरियाणा की आर्थिक वृद्धि के लिए किसानों को समर्थन जारी रखेगी। बजट (Haryana Budget 2021) में क्षेत्र के लिए 6,110 करोड़ रुपये के व्यय का प्रस्ताव किया गया है। यह 2020-21 के 5,052 करोड़ रुपये के व्यय की तुलना में 20.9 प्रतिशत अधिक होगा। इसमें से 2,998 करोड़ रुपये कृषि और कृषक कल्याण, 489 करोड़ रुपये बागवानी, 1,225 करोड़ रुपये पशुपालन और डेयरी, 125 करोड़ रुपये मत्स्यपालन और 1,274 करोड़ रुपये सहकारिता के लिए रखे गए हैं।

मुख्यमंत्री खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि उनकी सरकार किसानों की आमदनी दोगुना करने की दिशा में भी तेजी से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हम अपने किसानों के ऋणी हैं जिन्होंने अपनी मेहनत से आज हरियाणा को देश का प्रमुख खाद्यान्न उत्पादक बनाया है। कृषि हमारी अर्थव्यवस्था का आधार है। हम किसानों की आय को दोगुना करने को प्रतिबद्ध हैं।

FROM AROUND THE WEB