कोराना की होम टेस्टिंग किट को ICMR की मंजूरी, अब घर बैठे खुद कर सकेंगे टेस्ट

भारत में कोरोना की दूसरी लहर के बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने होम टेस्टिंग किट (Covid Home testing Kit) को मंजूरी दी है। इस किट के जरिए अब आप घर में खुद से कोरोना संक्रमण की जांच कर सकते हैं।
 
कोराना की होम टेस्टिंग किट को ICMR की मंजूरी, अब घर बैठे खुद कर सकेंगे टेस्ट

नई दिल्ली। भारत में कोरोना की दूसरी लहर के बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने होम टेस्टिंग किट (Covid Home testing Kit) को मंजूरी दी है। इस किट के जरिए अब आप घर में खुद से कोरोना संक्रमण की जांच कर सकते हैं। यह एक रैपिड एंटीजन टेस्ट (RAT) किट है। 

इस टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) का नाम कोविसेल्फ है और इसे पुणे स्थित मायलैब डिस्कवरी सॉल्यूशंस लिमिटेड ने बनाया है। खुद की जांच के लिए मायलैब कोविसेल्फ ऐप को डाउनलोड कर अपनी जानकारी देनी होती है और यह अनिवार्य है।

आईसीएमआर ने जारी की गाइडलाइंस

इस टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) का इस्तेमाल सिर्फ नाक से लिए स्वाब के सैंपल के लिए होगा। टेस्ट किट का इस्तेमाल इसकी ऐप या पैकेट पर दी गई जानकारी के हिसाब से ही करें। ICMR ने इस टेस्ट किट के इस्तेमाल के लिए कुछ गाइडलाइंस जारी की हैं, जिन्हें जानना बेहद जरूरी है।

  1. घर पर इस टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) का इस्तेमाल उन्हीं लोगों को करना चाहिए, जिनमें कोरोना के लक्षण हैं या फिर वे किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हों।
  2. टेस्टिंग किट (Covid Home testing Kit) का इस्तेमाल बिना सोचे समझे या बार-बार न करें।
  3. घर पर जांच के लिए किट में दी गई गाइडलाइंस को जरूर पढ़ें। या फिर कोविसेल्फ ऐप पर जानकारी ले सकते हैं। ICMR ने भी ग्राफिक्स और वीडियो लिंक शेयर किए हैं।
  4. कोविसेल्फ मोबाइल ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर पर मौजूद है और किट इस्तेमाल करने के लिए सभी यूजर्स को डाउनलोड करना चाहिए।
  5. जांच करने वाले सभी लोगों को टेस्टिंग प्रक्रिया पूरी होने के बाद टेस्ट स्ट्रिप की तस्वीर लेने (जिसमें ऐप डाउनलोड और रजिस्ट्रेशन किया गया) की सलाह दी गई है।
  6. आपके मोबाइल फोन के ऐप का डेटा एक सुरक्षित सर्वर पर रहेगा, जो ICMR की कोरोना टेस्टिंग पोर्टल से जुड़ा है। यहीं पर सभी डेटा को स्टोर किया जाएगा।
  7. सरकार ने कहा है कि मरीजों की गोपनीयता बनाकर रखी जाएगी।
  8. जो लोग इस टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) से जांच में पॉजिटिव आते हैं तो उन्हें वास्तव में कोरोना पॉजिटिव समझा जाए और दोबारा टेस्ट करवाने की जरूरत नहीं है।
  9. पॉजिटिव आने वाले सभी लोगों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी जाती है और ICMR एवं स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइंस के तहत देखभाल करने को कहा गया है।
  10. जिनमें कोरोना के लक्षण हैं और वे टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) से जांच में निगेटिव आए हैं तो उन्हें RT-PCR जांच करवाना चाहिए। यह इसलिए जरूरी है क्योंकि कम वायरल लोड के कारण रैपिड एंटीजेन टेस्टिंग के जरिए कुछ मामलों में इसकी पुष्टि नहीं हो पाती है।
  11. निगेटिव आने लोगों (लक्षण वाले) को संदिग्ध मामले की तरह देखा जाएगा और उन्हें RT-PCR जांच की रिपोर्ट आने तक होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है।
  12. टेस्ट किट के सभी संभावित परिणामों के बारे में मैनुअल पर जानकारी दी गई है। कंपनी के दिशा-निर्देशों के तहत इस्तेमाल के बाद, टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) के सभी सामानों को बायोहैजर्ड बैग (किट में मौजूद) में बंद करके फेंक दें।

कोविसेल्फ टेस्ट किट (Covid Home testing Kit) के घर में इस्तेमाल के लिए कंपनी ने भी कुछ जानकारी दी है। जिसमें किट के किसी भी सामान को फ्रिज में नहीं रखने की सलाह दी गई है। इसके अलावा किट को सूरज की सीधी रोशनी और बच्चों की पहुंच से दूर रखें। जांच करने के लिए घर में किसी साफ-सुथरी जगह का इस्तेमाल करें। इसके अलावा जांच करने के लिए आप इस वीडियो पर क्लिक करके पूरी जानकारी पा सकते हैं।

FROM AROUND THE WEB