जम्मू-कश्मीर में टूटा कोरोना का कहर, हिरासत में रखे गए 53 रोहिंग्याओं वायरस से संक्रमित

जम्मू-कश्मीर से बड़ी खबर सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हिरासत में लेकर होल्डिग सेंटर में रखे गए 53 रोहिंग्या कोरोना (Rohignya found Covid Positive) पॉजिटिव पाए गए हैं।
 
जम्मू-कश्मीर में टूटा कोरोना का कहर, हिरासत में रखे गए 53 रोहिंग्याओं वायरस से संक्रमित

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर भले ही धीमी होती दिख रही हो, लेकिन अभी खतरा पूरी तरह बरकरार है। देश के अलग-अलग राज्यों में भी कोरोना वायरस की रफ्तार पहले की तुलना में कम हो गई है। लेकिन इसी बीच जम्मू-कश्मीर से बड़ी खबर सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हिरासत में लेकर होल्डिग सेंटर में रखे गए 53 रोहिंग्या कोरोना (Rohignya found Covid Positive) पॉजिटिव पाए गए हैं।

कठुआ जिले में एक होल्डिंग सेंटर में 3 दिन तक कोरोना टेस्टिंग कैंपेन चलाया गया। इस दौरान कुल 218 सैंपल लिए गए। जांच में 53 रोहिंग्याओं में कोरोना वायरस (Rohignya found Covid Positive) की पुष्टि हुई है। अधिकारियों ने बताया है कि यह अभियान सोमवार से शुरू किया गया। जानकारी के अनुसार, सभी कोरोना पॉजिटिव रोहिंग्याओं को आइसोलेशन में रखा गया है।

58 लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

कठुआ जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी अशोक चौधरी ने पत्रकारों से बातचीत केदौरान कहा कि 23 मई (सोमवार) से शुरू किए गए अभियान में अब तक 53 रोहिंग्या कोरोना संक्रमित (Rohignya found Covid Positive) पाए गए हैं। सभी लोगों में बीमारी के कोई लक्षण नहीं हैं। महिलाओं और बच्चों समेत जम्मू के निरुद्ध केंद्र में करीब 220 रोहिंग्या मौजूद हैं। इनमें से 58 लोगों को कोरोना वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है।

मार्च में रोहिंग्याओं को हिरासत में लिया गया

गौरतलब है कि मार्च के महीने की शुरुआत में एक विशेष अभियान चलाया गया। इसके तहत जम्मू में कई रोहिंग्या मुसलमान (Rohignya found Covid Positive) हिरासत में लिए गए थे। हिरासत में लिए गए इन सभी को कठुआ जिले के एक विशेष केंद्र में रखा गा था। जहां उन्हें सभी जरूरी सुविधाएं मुहैया करा रही हैं।

FROM AROUND THE WEB