जस्टिस एनवी रमना होंगे देश के अगले चीफ जस्टिस, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी 

भारत के चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े (Justice Sharad Arvind Bobade) 23 अप्रैल को रिटायर होने वाले हैं। उनके बाद जस्टिस एनवी रमना (Justice NV Ramana) देश के अगले मुख्य न्यायाधीश होंगे।
 
जस्टिस एनवी रमना होंगे देश के अगले चीफ जस्टिस, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

नई दिल्ली। भारत के चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े (Justice Sharad Arvind Bobade) 23 अप्रैल को रिटायर होने वाले हैं। उनके बाद जस्टिस एनवी रमना (Justice NV Ramana) देश के अगले मुख्य न्यायाधीश होंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जस्टिस रमना की नियुक्ति पर मुहर लगा दी है। जस्टिस एनवी रमना (Justice NV Ramana) 24 अप्रैल को पदभार संभालेंगे। राष्ट्रपति उन्हें शपथ दिलाएंगे।

बता दें कि 45 साल से ज्यादा के न्यायिक अनुभव रखने वाले और संवैधानिक मामलों के जानकार एनवी रमना (Justice NV Ramana) का कार्यकाल 26 अगस्त 2022 तक का होगा। 


कौन हैं जस्टिस रमना

मूल रूप से आंध्र प्रदेश के रहने वाले एनवी रमना (Justice NV Ramana) वर्ष 2000 में आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट में स्थायी जज के तौर पर चुने गए थे। फरवरी, 2014 में सुप्रीम कोर्ट के जज के तौर पर नियुक्ति से पहले वह दिल्ली हाई कोर्ट में थे। 63 वर्षीय नुथालपति वेंकेट रमना ने 10 फरवरी, 1983 से अपने न्यायिक करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने आंध्र प्रदेश से वकील के तौर पर शुरुआत की थी। 

इसके बाद उन्होंने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट, आंध्र प्रदेश एडमिनिस्ट्रेटिव ट्राइब्यूनल के अलावा सुप्रीम कोर्ट में भी वकालत की थी। उन्होंने संवैधानिक, आपराधिक और इंटर-स्टेट नदी जल बंटवारे के कानूनों का खास जानकार माना जाता है। करीब 45 साल का लंबा अनुभव रखने वाले एनवी रमना (Justice NV Ramana) सुप्रीम कोर्ट के कई अहम फैसले सुनाने वाली संवैधानिक बेंच का हिस्सा रहे हैं।

FROM AROUND THE WEB