PM मोदी-गृहमंत्री अमित शाह पर ममता का वार- 'विपक्ष के खिलाफ किया केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल'

 
PM मोदी-गृहमंत्री अमित शाह पर ममता का वार- 'विपक्ष के खिलाफ किया केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल'

NewzBox Desk: पश्चिम बंगाल (West Begnal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा है कि हम देश और अपने राज्य के लोगों को बधाई देना चाहते हैं। हमने पैसे, बाहुबल, माफिया ताकत और सभी एजेंसियों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। 

बुधवार को टीएमसी शहीद दिवस (tmc martyrs day) पर एक वर्चुअल संबोधन में ममता (Mamata Banerjee) ने कहा कि तमाम बाधाओं के बावजूद हम जीते क्योंकि बंगाल में लोगों ने हमें वोट दिया और हमें देश, दुनिया के लोगों का आशीर्वाद मिला। ममता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) पर गंभीर आरोप लगाया कि आप एजेंसियों का इस्तेमाल कर के विपक्ष को परेशान करते हैं लेकिन बंगाल ने आपको हरा दिया। जितना नीचे गिरना था आप नीचे गिरे।

उन्होंने (Mamata Banerjee) कहा कि भारत को विकास परक राजनीति की जरूरत है। भारत को किसान, उद्योग, महिला, बच्चे, दलित का विकास जरूरी है लेकिन आप (केंद्र सरकार) यह सब नहीं करते हैं। आप उनको परेशान करते हैं जो जनता और विकास के लिए काम करते हैं।

केंद्र सरकार के मंत्रियों पर रखी जा रही नजर- ममता

ममता (Mamata Banerjee) ने कहा, 'हमारे फोन टैप हो रहे हैं। पेगासस (Pegasus) खतरनाक है। मैं किसी से बात नहीं कर सकती। आप जासूसी के लिए बहुत अधिक पैसा दे रहे हैं। मैंने अपना फोन प्लास्टर कर दिया है। हमें भी केंद्र पर प्लास्टर करना चाहिए नहीं तो देश तबाह हो जाएगा। भाजपा ने संघीय ढांचे को गिरा दिया है।' 

मुख्यमंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र सरकार के मंत्रियों के फोन पर नजर रखी जा रही है। उन्होंने कहा, 'केंद्र सरकार के मंत्रियों पर भी उनके फोन पर नजर रखी जा रही है। Pegasus की मदद से चुनाव प्रक्रिया, मीडिया, न्यायपालिका पर नजर रखी जा रही है। लोकतंत्र की जगह जासूसी चल रही है सबका मुंह बंद है।'

सीएम ने दावा किया, 'मैं चाहकर भी चिदंबरम, शरद पवार ,आंध्र, महाराष्ट्र, ओडिशा और दिल्ली के मुख्यमंत्रियों से बात नहीं कर सकती क्‍योंकि फोन से जासूसी हो रही है। जब तक देश से बीजेपी नहीं हटती, तब तक सभी राज्यों में 'खेला' चलेगा। हम 16 अगस्त को 'खेला दिवस' मनाएंगे। हम गरीब बच्चों को फुटबॉल देंगे। आज हमारी आजादी दांव पर है। बीजेपी ने हमारी आजादी को खतरे में डाल दिया है। उन्हें अपने ही मंत्रियों पर भरोसा नहीं है और एजेंसियों का दुरुपयोग हो रहा है।'
 

FROM AROUND THE WEB