चुनाव प्रचार के दौरान गंभीर रूप घायल हुई ममता बनर्जी, अस्पताल में कराया गया भर्ती

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले बुधवार को नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान राज्य की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banarjee inured) घायल हो गईं। घायल होने की खबर सुनकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhad) ममता बनर्जी का हाल जानने अस्पताल पहुंचे।
 
चुनाव प्रचार के दौरान गंभीर रूप घायल हुई ममता बनर्जी, अस्पताल में कराया गया भर्ती

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले बुधवार को नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान राज्य की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banarjee inured) घायल हो गईं। उनके बाएं पैर में चोट आई है और उन्हें सांस लेने में तकलीफ की भी शिकायत बताई जा रही है। ममता को इसके बाद कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। बुधवार देर रात ममता के घायल होने की खबर सुनकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhad) ममता बनर्जी का हाल जानने अस्पताल पहुंचे। इस दौरान वहां मौजूद टीएमसी समर्थकों ने उनका विरोध करते हुए 'वापस जाओ' के नारे लगाए।

इस बीच राज्यपाल (Jagdeep Dhankhad) ने घटना को लेकर प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। बताया जा रहा है कि नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान बिरूलिया में मंदिर के पास अज्ञात व्यक्तियों के धक्के से ममता बनर्जी का पैर चोटिल (Mamata Banarjee inured) हो गया है। उनके बाएं पैर में चोट लगी है। खबरों की मानें तो ममता को सांस लेने में भी थोड़ी बहुत तकलीफ हो रही है। गौरतलब है कि नंदीग्राम सीट से ममता बनर्जी का मुकाबला उनके पूर्व सहयोगी और अब बीजेपी के उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी से है।

जानकारी मिलते ही अस्पताल पहुंचे राज्यपाल

राज्यपाल धनखड़ (Jagdeep Dhankhad) ने घटना की जानकारी मिलने के तुरंत बाद ही ममता बनर्जी (Mamata Banarjee inured) से फोन पर बात की और बाद में उन्हें अस्पताल देखने पहुंच गए। बताया जा रहा है कि राज्यपाल करीब आधे घंटे तक ममता के कमरे में रहे और उनसे घटना की जानकारी ली। इस दौरान टीएमसी के वरिष्ठ नेता अभिषेक बनर्जी, फिरहाद हाकिम और डेरेक ओ ब्रायन कमरे के बाहर खड़े दिखे।

घटना के बाद राज्यपाल (Jagdeep Dhankhad) ने सुरक्षा निदेशक और मुख्य सचिव से अपडेट मांगा है। इसके साथ ही स्वास्थ्य सचिव और अस्पताल के निदेशक से सभी सावधानियां बरतने का आग्रह किया है। दरअसल, ममता ने आरोप लगाया है कि न तो स्थानीय पुलिस और न ही एसपी उस वक्त करीब थे, जब चार से पांच लोगों ने जानबूझकर उन्हें धक्का दिया। जब धनखड़ अस्पताल से वापस जा रहे थे तब भी उन्हें टीएमसी समर्थकों की नारेबाजी का सामना करना पड़ा।

पार्टी ने रोका घोषणापत्र

दूसरी तरफ पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी के चोटिल (Mamata Banarjee inured) होने के बाद विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के घोषणापत्र को जारी करने से रोक दिया है। पार्टी का घोषणापत्र आज कालीघाट में रिलीज किया जाना था। 

क्या बोले डॉक्टर

अस्पताल के डॉक्टरों ने गुरुवार को पुष्टि करते हुए बताया कि सीएम पर किए गए टेस्ट में उसके बाएं पैर में गंभीर चोट (Mamata Banarjee inured) लगी है और दाहिने कंधे, गर्दन में भी चोटें आई हैं। भर्ती होते ही मुख्यमंत्री का एक्सरे कराया गया। अगले 48 घंटों तक डॉक्टर ममता बनर्जी पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं क्योंकि उन्हें सीने में दर्द और सांस फूलने की शिकायत है।

FROM AROUND THE WEB