मन की बात: टीकाकरण से लेकर टोक्यो ओलिंपिक और जल संकट पर पीएम ने कही ये बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने रेडियो प्रोग्राम मन की बात (Mann ki Baat PM Modi) को संबोधित किया। यह मन की बात का 78वां एपिसोड था।
 
मन की बात: टीकाकरण से लेकर टोक्यो ओलिंपिक और जल संकट पर पीएम ने कही ये बड़ी बातें

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने रेडियो प्रोग्राम मन की बात (Mann ki Baat PM Modi) को संबोधित किया। यह मन की बात का 78वां एपिसोड था। पीएम मोदी ने इस बार अलग अंदाज में Mann ki Baat कार्यक्रम की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि हर बार लोग मुझसे सवाल पूछते हैं, इस बार मैं सवाल पूछूंगा। पीएम ने ओलिपिंक से जुड़ा सवाल पूछे और अपील की कि लोग MyGov पर जाएं और टोक्यो ओलंपिक से जुड़े क्विज में जरूर हिस्सा लें। 

पीएम मोदी ने इस (Mann ki Baat PM Modi) मौके पर दिवंगत भारतीय धावक मिल्खा सिंह को भी याद किया। इस दौरान पीएम मोदी ने टोक्यो ओलिंपिंक में हिस्सा लेने जा रहे भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताया। पीएम मोदी ने एक-एक कर बताया कि किस तरह छोटे शहरों और गरीब परिवारों से जुड़े खिलाड़ी इस बार टोक्यो में जा रहे हैं। 

मन की बात (Mann ki Baat PM Modi) कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश के बैतूल जिले दुलारिया गांव के राजेश हिरावे से बात की। राजेश हिरावे ने पीएम को बताया कि इंटरनेट मीडिया पर फैल रहे भ्रम की वजह से लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहे। प्रधानमंत्री ने राजेश हिरावे से कहा कि आप खुद वैक्सीन लगवाइए और ग्रामीणों के बीच वैक्सीन को लेकर फैल रहे भ्रम को दूर कीजिए।

मिल्खा सिंह का जिक्र करते हुए पीएम मोदी (Mann ki Baat PM Modi) ने कहा कि जब बात टोक्यो ओलंपिक्स की हो रही हो, तो भला मिल्खा सिंह जी जैसे लेजेंडरी एथलीट को कौन भूल सकता है। कुछ दिन पहले ही कोरोना ने उन्हें हमसे छीन लिया। जब वे अस्पताल में थे, तो मुझे उनसे बात करने का अवसर मिला था। जब टैलेंट, डेडिकेशन, डिटरमिनेशन और स्पोर्ट्समैन स्प्रिट एक साथ मिलते हैं, तब जाकर कोई चैंपियन बनता है। टोक्यो जा रहे हमारे ओलंपिक दल में भी कई ऐसे खिलाड़ी शामिल हैं, जिनका जीवन बहुत प्रेरित करता है।

पीएम मोदी (Mann ki Baat PM Modi) ने कहा कि टोक्यो जा रहे हर खिलाड़ी का अपना संघर्ष रहा है, बरसों की मेहनत रही है। वो सिर्फ अपने लिए ही नहीं जा रहें बल्कि देश के लिए जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर आप #Cheer4India के साथ अपने इन खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दे सकते हैं।

कोरोना काल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कभी-ना-कभी, ये विश्व के लिए case study का विषय बनेगा कि भारत के गांव के लोगों ने, हमारे वनवासी-आदिवासी भाई-बहनों ने, इस कोरोना काल में, किस तरह, अपने सामर्थ्य और सूझबूझ का परिचय दिया। जल संरक्षण पर बात करते हुए पीएम मोदी (Mann ki Baat PM Modi) ने कहा कि हमारे देश में अब मानसून का सीजन भी आ गया है। बादल जब बरसते हैं तो केवल हमारे लिए ही नहीं बरसते, बल्कि बादल आने वाली पीढ़ियों के लिए भी बरसते हैं। इसलिए मैं जल संरक्षण को देश सेवा का ही एक रूप मानता हूं।

FROM AROUND THE WEB