आज से संसद का मॉनसून सत्र, पेश होंगे 23 अहम बिल, PM मोदी बोले- प्रोडक्टिव बातचीत की उम्मीद

 
आज से संसद का मॉनसून सत्र, पेश होंगे 23 अहम बिल, PM मोदी बोले- प्रोडक्टिव बातचीत की उम्मीद

NewzBox Desk: Parliament Monsoon Session: संसद का मॉनसून सत्र (Monsoon Session of Parliament) सोमवार यानी आज से शुरू होने वाला है। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। 

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा था कि बैठक के दौरान सांसदों ने काफी महत्वपूर्ण सुझाव दिए हैं। इसलिए दोनों सदनों में सार्थक बहस होनी चाहिए। उन्होंने सभी दलों को भरोसा दिया है कि उनके द्वारा दिए गए सुझाव पर काम करने के लिए सभी प्रयास किए जाएंगे। 

उन्होंने (PM Narendra Modi) कहा कि लोकतंत्र की परंपरा के अनुसार लोगों से जुड़े सभी मुद्दे सौहार्दपूर्ण ढंग से उठाना चाहिए और सरकार को भी सही तरीके से चर्चा के दौरान अपनी बात रखने का मौका मिलना चाहिए। 

प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) ने कहा कि एक अनुकूल वातावरण तैयार करना सभी की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि जन प्रतिनिधि वास्तव में जमीनी हालात को अच्छी तरह से जानते हैं, और इसीलिए चर्चाओं में उनकी भागीदारी से फैसले लेने की प्रक्रिया समृद्ध होती है। 

पीएम मोदी ने कहा कि ज्यादातर सांसदों का टीकाकरण हो चुका है और उम्मीद है कि इससे आत्मविश्वास के साथ संसद की गतिविधियों को पूरा करने में मदद मिलेगी। 

प्रधानमंत्री ने संसद (Parliament Monsoon Session) में स्वस्थ विचार-विमर्श का आह्वान किया और सभी दलों के नेताओं से सहयोग की मांग की। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि सत्र सुचारू रूप से चलेगा और अपना काम पूरा करेगा। उन्होंने कोविड-19 महामारी के चलते जान गंवाने वालों के लिए अपनी संवेदनाएं व्यक्त कीं।

पीएम मोदी ने बैठक के बाद अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, मॉनसून सत्र से एक दिन पहले सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लिया। हमलोग उम्मीद करते हैं कि इस सत्र में प्रोडक्टिव बातचीत होगी। जिस तरह आज की बैठक में चर्चा होगी।   

बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने भाग लिया। इसके अलावा बैठक में राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और वी। मुरलीधरन भी उपस्थित रहे।

33 पार्टियों के 40 से ज्यादा नेताओं ने लिया हिस्सा

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया कि मॉनसून सत्र के मद्देनजर ऑल पार्टी मीटिंग में 33 पार्टियों के 40 से ज्यादा नेताओं ने भाग लिया। इस बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि जनप्रतिनिधियों के सजेशन महत्वपूर्ण होते हैं। जो जमीन से आता है, उससे डिबेट रिच होती है। पीएम मोदी ने स्वस्थ, सार्थक और शांतिपूर्ण चर्चा होने की मंशा जाहिर की। इसबार सेशन में 31 बिजनेस, 6 ऑर्डिनेंस और 23 बिल महत्वपूर्ण हैं।

मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि किसानों के मुद्दे पर पहले चर्चा हो चुकी है। आगे बिज़नेस एडवाइजरी कमिटी जो निर्णय लेगी उसका पालन किया जाएगा। उधर, मॉनसून सत्र से पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी की रणनीति में बड़ा फेरबदल किया है। सोनिया ने दोनों सदनों में पार्टी के बेहतर कामकाज के लिए दो ग्रुप बनाए हैं।

ये ग्रुप रोजाना बैठक करेंगे और पार्टी की रणनीति बनाएंगे। मॉनसून सत्र से पहले सोनिया के इस फैसले को काफी अहम माना जा रहा है। क्योंकि इसी के साथ ये साफ हो गया है कि अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के नेता बने रहेंगे।

FROM AROUND THE WEB