फ्लाइट में सफर करने वालों के लिए जारी हुए नए नियम, एक भी भूले तो लग सकता है बैन

डीजीसीए (DGCA) ने एयर ट्रैवल से जुड़े नियमों (New Air travel Guidelines) की नई सूची जारी की है। अगर आप इसे नहीं मानेंगे तो आपको फ्लाइट पर बैठने से बैन भी किया जा सकता है।
 
फ्लाइट में सफर करने वालों के लिए जारी हुए नए नियम, एक भी भूले तो लग सकता है बैन

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच अगर आप एयर ट्रैवल करने जा रहे हैं, तो सतर्क हो जाइये। डीजीसीए (DGCA) ने एयर ट्रैवल से जुड़े नियमों (New Air travel Guidelines) की नई सूची जारी की है। अगर आप इसे नहीं मानेंगे तो आपको फ्लाइट पर बैठने से बैन भी किया जा सकता है। डीजीसीए ने यात्रा में लापरवाही करने वाले लोगों पर सख्त एक्शन के निर्देश दिए हैं।

दरअसल, देश में कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों को लेकर डायरेक्‍ट्रेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA)  ने नई गाइडलाइन जारी की है। अगर यात्री विमान में मास्क नहीं पहनते हैं और साथ ही महामारी की गाइडलाइंस (New Air travel Guidelines) का उल्‍लंघन करते हैं तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अगर यात्री बार-बार ये गलती दोहराएंगे तो उनके हवाई सफर पर हमेशा के लिए प्रतिबंध भी लगाया जा सकता है।

डीजीसीए ने जारी किया सर्कुलर

डीसीजीए की ओर से जारी किए गए सर्कुलर (New Air travel Guidelines) में कहा गया है कि एयरपोर्ट में दाखिल होने के बाद से लेकर निकलने तक मास्क पहनना अनिवार्य होगा। सर्कुलर में कहा गया है कि हवाई यात्रा के दौरान जो यात्री सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करेंगे उन्हें प्लेन से उतार दिया जाएगा। इसके साथ ही जो लोग अपनी यात्रा के दौरान बार-बार नियमों का उल्लंघन करते पाए जाएंगे, उन्हें 'उपद्रवी यात्री' करार दे दिया जाएगा।

क्या हैं नए नियम

  • एयर ट्रैवल के दौरान मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य।
  • मास्क को तब तक नाक के नीच नहीं किया जा सकता है, जब तक कि कोई अपवाद की स्थिति न हों।
  • एयरपोर्ट में यात्री की एंट्री के दौरान CISF या अन्‍य पुलिस कर्मचारी यह सुनिश्चित करेंगे कि कोई भी बिना मास्‍क के अंदर न आ पाए।
  • एयरपोर्ट डायरेक्‍टर/टर्मिनल मैनेजर यात्री में इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि उन्होंने हमेशा ठीक से मास्क लगाया हुआ हो। इसके साथ ही यात्री सही तरीके से सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करें।
  • एयरपोर्ट परिसर या प्लेन में अगर कोई यात्री कोरोना नियमों का पालन नहीं करता है तो उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया जाएगा। हालांकि सर्कुलर में कहा गया है कि कानून के मुताबिक, ऐक्‍शन लिया जा सकता है।
  • डिपार्चर से पहले, प्‍लेन में बैठा कोई यात्री अगर चेतावनी के बाद भी ठीक से मास्‍क नहीं पहनता तो उसे उतार दिया जाएगा।
  • फ्लाइट के दौरान अगर बार-बार मास्‍क पहनने से इनकार करता है और कोविड प्रोटोकॉल्‍स का पालन नहीं करता तो उसके साथ 'उपद्रवी यात्री' की तरह व्‍यवहार किया जाए।
  • उपद्रवी यात्री की लिस्ट में आने वाले लोगों की हवाई यात्रा पर बैन लगाया जाएगा। नए नियमों के अनुसार, यह बैन 6 महीने, 1 साल, 2 साल या फिर इससे भी ज्‍यादा हो सकता है।
     

FROM AROUND THE WEB