जेल में फूट-फूटकर रोया ओलंपियन सुशील कुमार, पूछताछ में किए बड़े खुलासे

जूनियर पहलवान सागर धनखड़ की हत्या (Sagar Dhankar Murder Case) के मामले में गिरफ्तार ओलंपियन सुशील कुमार (Sushil Kumar) और उसके साथी अजय को दिल्ली की रोहिणी कोर्ट ने 6 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया है।
 
जेल में फूट-फूटकर रोया ओलंपियन सुशील कुमार, पूछताछ में किए बड़े खुलासे

नई दिल्ली। जूनियर पहलवान सागर धनखड़ की हत्या (Sagar Dhankar Murder Case) के मामले में गिरफ्तार ओलंपियन सुशील कुमार (Sushil Kumar) और उसके साथी अजय को दिल्ली की रोहिणी कोर्ट ने 6 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया है। अब दिल्ली पुलिस की टीम दोनों से पूछताछ कर रही है और दोनों के बयानों को क्रॉस चेक भी किया जा रहा है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार को सुशील कुमार (Sushil Kumar) और उसके साथी अजय से करीब 4 घंटे पूछताछ की। बता दें कि दोनों दिल्ली के मॉडल टाउन थाने में पुलिस रिमांड पर हैं।

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, सुशील कुमार (Sushil Kumar) आम अपराधियों की तरह लॉकअप में बंद किया गया, लेकिन लॉकअप में जाते ही वह फूट-फूटकर रोने लगा। इसके अलावा पूछताछ के दौरान भी सुशील कुमार की आंखों से आंसू छलके।

रिपोर्ट के अनुसार, हिरासत में सुशील कुमार (Sushil Kumar) ने पूरी रात जागकर बिताई और यहां तक कि उसने खाना खाने से भी मना कर दिया। वह रात में भी कई बार रोता रहा। पुलिस के अनुसार, सुशील को तड़के दो घंटे के लिए नींद आई थी, लेकिन सुबह कानूनी प्रक्रिया के लिए उसे जगा दिया गया। उठने के बाद सुशील कुमार ने योग और ध्यान किया। वहीं सुशील का साथी अजय पुलिस हिरासत में शांत होकर बैठा था और उसने खाना भी खाया।

सूत्रों के मुताबिक, सुशील कुमार (Sushil Kumar) को अपनी गलती का अहसास हो रहा है और उसे अपने किए पर पछतावा हो रहा है कि वो वारदात वाले दिन छत्रसाल स्टेडियम क्यों चला गया। वह अफसोस कर रहा है कि वो उस रात वहां नहीं जाता तो ये घटना होती ही नहीं। इसके साथ ही उसे अपने रेसलिंग करियर की भी चिंता सता रही है।

सुशील कुमार ने क्राइम ब्रांच की पूछताछ में बताया कि वह सागर धनखड़ (Sagar Dhankar Murder Case) को सिर्फ डराना चाहता था, इसलिए पिटाई की और डराने के लिए ही हथियार लेकर गया था। इसके साथ ही इस घटना का खौफ पैदा करने के लिए वीडियो बनवाया था। सुशील ने पुलिस को बताया कि घटना के बाद भी वह छत्रसाल स्टेडियम में था, लेकिन सागर की मौत की सूचना मिलने के बाद वह भाग गया।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम सुशील कुमार (Sushil Kumar) को छत्रसाल स्टेडियम ले गई और क्राइम सीन को रिक्रिएट किया। पुलिस की टीम सुशील के सात करीब एक घंटे तक छत्रसाल स्टेडियम में रही और इस दौरान क्राइम ब्रांच ने सुशील से पूछा कि किस रास्ते से सागर (Sagar Dhankar Murder Case) और उसके साथी को किडनैप कर लाया गया था और फिर किस जगह पर उसको पीटा गया।

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई को पहलवान सागर धनखड़ (Sagar Dhankar Murder Case) और उनके दोस्तों पर हमला हुआ था। इस दौरान उनके साथ काफी मारपीट की गई। इसी हमले में पहलवान सागर धनखड़ की मौत हो गई और उनकी हत्या का आरोप सुशील कुमार (Sushil Kumar) के अलावा उसके कुछ साथी पहलवानों पर लगा।

FROM AROUND THE WEB