ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मामला: फरार बिजनेसमैन नवनीत कालरा को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी से जुड़े मामले में कारोबारी नवनीत कालरा (Navneet Kalra Arrested) को आखिरकार दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
 
ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मामला: फरार बिजनेसमैन नवनीत कालरा को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार
नई दिल्ली। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी से जुड़े मामले में कारोबारी नवनीत कालरा (Navneet Kalra Arrested) को आखिरकार दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कालरा को गुरुग्राम से दबोचा। बता दें कि पिछले कई दिनों से दिल्ली पुलिस नवनीत कालरा को पकड़ने के लिए छापे मार रही थी।

क्राइम ब्रांच ने नवनीत कालरा (Navneet Kalra Arrested) को उसके साले के फार्म हाउस से गिरफ्तार किया गया। कालरा पर दिल्ली में अंतरराष्ट्रीय सिम कंपनी मैट्रिक्स सेलुलर सर्विस के साथ मिलकर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी करने का आरोप था।

छापेमारी के बाद नवनीत कालरा (Navneet Kalra Arrested) ने हाईकोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया था। हालांकि कुछ दिन पहले ही कोर्ट ने कालरा की ओर से दायर अग्रिम जमानत की याचिक को खारिज कर दी थी। इसके साथ ही भारतीय जनता पार्टी ने उन पर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के करीबी होने का आरोप लगाया है।

गौरतलब है कि नवनीत कालरा (Navneet Kalra Arrested) का मामला दक्षिणी दिल्ली के एक रेस्तरां में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी से जुड़ा है। दिल्ली पुलिस ने कुछ दिनों पहले ही खान मार्केट स्थित खान चाचा रेस्तरां में छापामार कर भारी मात्रा में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किए थे। 

पुलिस सूत्रों के अनुसार अक्टूबर 2020 से चीन से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को 12,000 से 20,000 रुपये में आयात किया गया था और ऑनलाइन पोर्टर्ल्स और व्हाट्सएप पर 50,000 से 70,000 रुपये में बेचा जा रहा था। पुलिस को इससे संबंधित कई व्हाट्सएप मेसेजस भी मिले थे। दिल्ली पुलिस के अनुसार 17 अप्रैल से 3 मई के बीच कालरा और मैट्रिक्स सेलुलर के उसके साथियों ने 13 करोड़ रुपये की कीमत वाले 7500 कंसंट्रेटर्स बरामद किए थे।

FROM AROUND THE WEB