12 साल से कम उम्र के बच्चों को वैक्सीन देने के लिए Pfizer ने शुरू किया ट्रायल

अमेरिकी कोरोना वैक्सीन निर्माता कंपनी फाइजर (Pfizer Kids Vaccine Trial) ने 12 साल से कम उम्र के बच्चों पर भी वैक्सीन का ट्रायल शुरू कर दिया है। पहले चरण में कम संख्या में बच्चों को यह वैक्सीन दी जाएगी। फाइजर ने ट्रायल के लिए दुनिया के चार देशों से 4,500 से अधिक बच्चों का चुनाव किया है।
 
12 साल से कम उम्र के बच्चों को वैक्सीन देने के लिए Pfizer ने शुरू किया ट्रायल

नई दिल्ली। अमेरिकी कोरोना वैक्सीन निर्माता कंपनी फाइजर (Pfizer Kids Vaccine Trial) ने 12 साल से कम उम्र के बच्चों पर भी वैक्सीन का ट्रायल शुरू कर दिया है। पहले चरण में कम संख्या में बच्चों को यह वैक्सीन दी जाएगी। फाइजर ने ट्रायल के लिए दुनिया के चार देशों से 4,500 से अधिक बच्चों का चुनाव किया है। इन चार प्रमुख देशों में अमेरिका, फिनलैंड, पोलैंड और स्पेन शामिल हैं। 

फाइजर ने जानकारी देते हुए कहा, ट्रायल के पहले चरण में 12 साल से कम उम्र के बच्चों को वैक्सीन (Pfizer Kids Vaccine Trial)  दी जाएगी। यदि सब कुछ ठीक रहा तो इस ट्रायल को आगे बढ़ाया जाएगा। कंपनी ने आगे कहा कि वैक्सीनेशन ट्रायल के लिए इस हफ्ते 5 से 11 साल के बच्चों के चयन करने का काम शुरू किया जाएगा। इन बच्चों को 10 माइक्रोग्राम की दो खुराकें दी जाएंगी। 

कंपनी के अनुसार, यह डोज एडल्ट और बुजुर्गों को दी जाने वाली वैक्सीन की खुराक का एक तिहाई है। इसके कुछ हफ्ते बाद 6 महीने से अधिक उम्र के बच्चों पर टीके का ट्रायल (Pfizer Kids Vaccine Trial) शुरू किया जाएगा। उन्हें तीन माइक्रोग्राम वैक्सीन दी जाएगी। 

जल्द पॉजिटिव रिजल्ट मिलने की उम्मीद

रिपोर्ट्स के अनुसार, फाइजर के अलावा मॉडर्ना भी 12 से 17 साल उम्र तक के बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल (Pfizer Kids Vaccine Trial) कर रहा है। जल्द ही इसके नतीजे भी सामने आ सकते हैं। वहीं, जॉनसन एंड जॉनसन की ओर से भी स्टडी की जा रही है। पिछले महीने एस्ट्राजेनेका ने 6 से 17 साल तक के बच्चों पर ब्रिटेन में स्टडी शुरू की थी। इन सभी वैक्सीन निर्माता कंपनियों को जल्द पॉजिटिव रिजल्ट मिलने की उम्मीद है। 

FROM AROUND THE WEB