राकेश टिकैत का आरोप, कहा-मुझ पर हमला केंद्र के अलावा और कौन करवा सकता है

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के काफिले पर राजस्थान के अलवर में  हुए हमले (Attack On Rakesh Tikait) पर उन्होंने केंद्र पर हमला बोला है।
 
राकेश टिकैत का आरोप, कहा-मुझ पर हमला केंद्र के अलावा और कौन करवा सकता है

नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के काफिले पर राजस्थान के अलवर में  हुए हमले (Attack On Rakesh Tikait) पर उन्होंने केंद्र पर हमला बोला है। टिकैत ने केंद्र की मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि केंद्र जिम्मेदार है, और कौन हो सकता है? यह उनकी युवा शाखा है। वे कह रहे थे, राकेश टिकैत, गो बैक। मुझे कहां जाना चाहिए? उन्होंने पत्थर फेंके, लाठियां चलाईं। वे हमसे क्यों लड़ रहे हैं, हम किसान हैं, हम एक राजनीतिक पार्टी नहीं हैं।

गौरतलब है कि किसान नेता राकेश टिकैत (Attack On Rakesh Tikait) के काफिले पर शुक्रवार को राजस्थान के अलवर जिले में कुछ लोगों ने पत्थर फेंके। घटना में किसी को चोट तो नहीं लगी, लेकिन टिकैत की कार का पिछला शीशा थोड़ा क्षतिग्रस्त हो गया। यह घटना बहरोड़ के ततारपुर चौराहे पर हुई। टिकैत ने शुक्रवार को अलवर में दो किसान रैलियों को संबोधित किया।

भिवाड़ी के एसपी राम मूर्ति जोशी ने बताया कि जिस वाहन को निशाना बनाया गया था उसमें टिकैत (Attack On Rakesh Tikait) मौजूद नहीं थे। घटना में कोई घायल नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि मत्स्य विश्वविद्यालय अलवर के छात्र नेता कुलदीप राव ने अपने समर्थकों के साथ वहां से गुजर रहे टिकैत के काफिले को काले झंडे दिखाए।

भीड़ ने किया था हमला

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राजाराम मील ने कहा कि लगभग 40-50 लोग थे और उनके पास लाठियां थीं। उन्होंने कहा, हम हरसोली में पहली बैठक को संबोधित करने के बाद बानसूर की ओर जा रही थे तो तातारपुर के पास यह घटना हुई। घटना के बाद टिकैत (Attack On Rakesh Tikait) ने दूसरी सभा को संबोधित किया। माकपा के पूर्व विधायक अमरा राम ने आरोप लगाया कि भाजपा के इशारे पर एबीवीपी के सदस्यों ने हमला किया।

किसानों ने जाम किया चिल्ला बॉर्डर

उधर राकेश टिकैत (Attack On Rakesh Tikait) पर हुए हमले के विरोध में शुक्रवार देर शाम सैकड़ों किसान सेक्टर 14-A चिल्ला बॉर्डर जाम कर धरने पर बैठ गए। किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसानों के धरने के चलते दिल्ली और नोएडा रोड पर लंबा जाम लग गया।

किसानों का कहना है कि राकेश टिकैत (Attack On Rakesh Tikait) पर हमला होना कार्यकर्ता पूर्ण है। उनकी मांग है कि भारत सरकार राकेश टिकैत को जेड प्लस सुरक्षा दे। उन पर हमला करने वाले हमलावरों को जल्द गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने कहा कि अगर उनकी मांगे जल्द से जल्द नहीं मानी जाती तो वह पूरा एनसीआर जाम कर देंगे।

FROM AROUND THE WEB