आरबीआई की रिपोर्ट में खुलासा, 31 पर्सेंट तक बढ़े 500 के नकली नोट

वर्ष 2016 में जब मोदी सरकार ने नोटबंदी का ऐलान किया था, तो इसके पीछे एक बड़ी वजह 500 और 1000 रुपये के नकली (Fake Currency Note) नोटों के बड़े बाजार को एक झटके से खत्म करना था। इसमें बड़ी कामयाबी सरकार को मिली भी, लेकिन एक बार फिर से नकली नोटों का बाजार जमने लगा है। 
 
आरबीआई की रिपोर्ट में खुलासा, 31 पर्सेंट तक बढ़े 500 के नकली नोट

नई दिल्ली। वर्ष 2016 में जब मोदी सरकार ने नोटबंदी का ऐलान किया था, तो इसके पीछे एक बड़ी वजह 500 और 1000 रुपये के नकली (Fake Currency Note) नोटों के बड़े बाजार को एक झटके से खत्म करना था। इसमें बड़ी कामयाबी सरकार को मिली भी, लेकिन एक बार फिर से नकली नोटों का बाजार जमने लगा है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की सालाना रिपोर्ट में इस बात का जिक्र है कि जाली नोटों का कारोबार तेजी से फल-फूल रहा है। 

RBI की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि वित्त वर्ष 2020-21 में 5.45 करोड़ रुपये से ज्यादा के नकली नोट (Fake Currency Note) पकड़े गए हैं। नोटबंदी के बाद सरकार ने 500 रुपये के महात्मा गांधी सीरीज के नए नोट जारी किए थे, इन नोट्स को लेकर दावा किया गया था कि इनमें सिक्योरिटी फीचर्स ज्यादा हैं, इन्हें कॉपी करना या इनके जाली नोट बनाना मुश्किल है। लेकिन RBI की सालाना रिपोर्ट में ये कहा गया है कि 500 रुपये के नकली नोटों में तेजी से इजाफा हुआ है।

500 रुपये के नकली नोटों में इजाफा

RBI की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले इस वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान 500 रुपये के नकली नोटों (Fake Currency Note) की संख्या में 31.3 परसेंट का इजाफा हुआ है। वित्त वर्ष 2019-20 में 500 रुपये के 30,054 नकली नोट पकड़े गए थे, जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में 39,453 नकली नोट पकड़े गए हैं। हालांकि दूसरी करेंसीज के नकली नोटों की संख्या में गिरावट दर्ज हुई है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2020-21 में कुल 2,08,625 नकली नोट (Fake Currency Note) पकड़े गए हैं, जिनमें से 8107 नोट यानी करीब 4 परसेंट नकली नोट RBI ने पकड़े हैं, जबकि बैंकों ने 2,00,518 नोट यानी करीब 96 परसेंट जाली नोट पकड़े हैं। इसके अलावा 2000 रुपये के 8,798 जाली नोट बैंकों ने पकड़े हैं।

100 रुपये के नकली नोट सबसे ज्यादा पकड़े गए

हालांकि संख्या की बात करें तो वित्त 2020-21 में सबसे ज्यादा 100 रुपये के नकली नोट (Fake Currency Note) पकड़े गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 100 रुपये के 1,10,736 नोट पकड़े गए हैं जिनकी कुल वैल्य बनती है 1,10,73,600 रुपये। हालांकि ये संख्या भी पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले कम है। पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में 100 रुपये के 1,68,739 नोट पकड़े गए थे। यानी जिनकी कुल वैल्यू है 1,68,73,900 रुपये।

बाकी नोटों का हाल

इसके अलावा वित्त वर्ष 2020-21 में 2 और 5 रुपये के 9 नोट पकड़े गए हैं, ​जबकि पिछले साल 22 नोट पकड़े गए थे। वर्ष 2020-21 में 10 रुपये के 304 नोट, 20 रुपये के 267 नोट, 50 रुपये के 24,802 नोट, 100 रुपये के 1,10,736 नोट और 200 रुपये के 24,245 नकली नोट (Fake Currency Note) पकड़े गए हैं।

FROM AROUND THE WEB