लेटर बम से महाराष्ट्र में सियासी भूचाल, जा सकती है अनिल देशमुख की कुर्सी!

मुंबई पुलिस आयुक्त पद से हटाए गए परमबीर सिंह की चिट्ठी (Parambir singh Letter) ने महाराष्ट्र की राजनीति को सुलगा दिया है। एनसीपी नेता और गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) पर सचिन वाझे से वसूली करवाने का आरोप है।
 
लेटर बम से महाराष्ट्र में सियासी भूचाल, जा सकती है अनिल देशमुख की कुर्सी!

नई दिल्ली। मुंबई में मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक भरी कार का मामला गहराता जा रहा है। मामले की जांच के बीच मुंबई पुलिस आयुक्त पद से हटाए गए परमबीर सिंह की चिट्ठी (Parambir singh Letter) ने महाराष्ट्र की राजनीति को सुलगा दिया है। सीएम उद्धव ठाकरे को लिखी गई परमबीर सिंह की चिट्ठी (Parambir singh Letter)के बाद सियासत तेज हो गई है। 

दरअसल, इस चिट्ठी (Parambir singh Letter) में एनसीपी नेता और गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) पर सचिन वाझे से वसूली करवाने का आरोप है। इन आरोपों के बाद अनिल देशमुख पर इस्तीफे का दबाव बन गया है। इस बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार भी सक्रिय हो गए हैं। शरद पवार दिल्ली में हैं, और उन्होंने एनसीपी के दो बड़े नेताओं को यहीं बुलाया है किया है। 

बता जा रहा है कि महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार और एनसीपी के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल दिल्ली तलब किए गए हैं। शरद पवार एनसीपी नेताओं के बीच अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) पर लगे आरोपों को लेकर चर्चा की जाएगी। अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) का नाम आने के बाद राज्य की उद्धव सरकार दबाव में आ गई है। विपक्ष की तरफ से अनिल देशमुख के खिलाफ जांच करने और उनके इस्तीफे की मांग की जा रही है।

FROM AROUND THE WEB