राहुल-सोनिया की सख्ती के बाद नरम पड़े सिद्धू, कहा- पंजाब में कांग्रेस का चेहरा कैप्टन अमरिंदर सिंह

 
राहुल-सोनिया की सख्ती के बाद नरम पड़े सिद्धू, कहा- पंजाब में कांग्रेस का चेहरा कैप्टन अमरिंदर सिंह

NewxBox Desk: कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की सख्ती के बाद अब नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) के तेवर नरम पड़ते नज़र आ रहे हैं। 

पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) के अध्यक्ष सुनील जाखड़ (Sunil Jakhar) से मुलाक़ात के बाद सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) ने कहा है कि राज्य में कांग्रेस का चेहरा कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ही हैं और अगर किसी तरह के मतभेद भी हैं तो उन्हें बातचीत के जरिए सुलझाया जा सकता है। 

उन्होंने (Navjot Singh Siddhu) कहा कि अपनी ही सरकार के कामकाज पर सवाल खड़ा करने की उनकी मंशा नहीं है। उधर पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) के प्रभारी हरीश रावत (Harish Rawat) पार्टी के भीतर कलह के बीच मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मिलने के लिए राज्य सरकार के हेलिकॉप्टर से चंडीगढ़ पहुंचे हैं।

सुनील जाखड़ (Sunil Jakhar) से उनके पंचकुला आवास पर मुलाकात के बाद सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) ने कहा कि आलाकमान उनके संपर्क में है और जो भी मतभेद हैं उन्हें पार्टी में इन्टरनल बातचीत से सुलझा लिया जाएगा। ऐसी ख़बरें हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू को जल्द ही पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जा सकता है। इसके अलावा जालंधर से सांसद संतोष चौधरी और कैबिनेट मंत्री विजय इंद्र सिंगला को कार्यकारी अध्यक्ष का पद दिया जा सकता है। 

आज शाम तक कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू की मुलाक़ात कराकर मामले को सुलझा सकते हैं। सांसद संतोष चौधरी और कैबिनेट मंत्री विजय इंद्र सिंगला भी मोहाली के सिसवां स्थित कैप्टन अमरिंदर सिंह के फार्म हाउस पहुंच चुके हैं।


कैप्टन अमरिंदर ने जताई नाराजगी

इससे पहले सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चाओं से नाराज मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पार्टी आलाकमान को चिट्ठी लिखी थी। इस चिट्ठी में कहा गया था कि अगर सिद्धू को पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया तो इसके गंभीर नतीजे हो सकते हैं। 

पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और इससे नतीजों पर बुरा असर पड़ सकता है। इससे पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को दिल्‍ली में पार्टी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मुलाकात की थी और इस मीटिंग में राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव और पंजाब प्रभारी हरीश रावत भी मौजूद थे।

बैठक के बाद कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्होंने यह कभी नहीं कहा कि नवजोत सिद्धू पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष होंगे। उन्होंने कहा, ‘मैंने पार्टी आलाकमान के सामने अपनी बात रख दी है। मुझे यकीन है कि कांग्रेस अध्यक्ष अपना समय लेंगी और जल्द ही किसी नतीजे तक पहुंचेंगी।’ हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि बैठक के दौरान सोनिया और राहुल दोनों ने ही सिद्धू को बयानबाजी से बचने की सलाह दी थी और पंजाब सरकार की आलोचना न करने की हिदायत भी दी थी।

FROM AROUND THE WEB