पीएम मोदी की शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंची TMC, बांग्लादेश दौरे पर दंडात्मक कार्रवाई की मांग

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बीच हुए पीएम मोदी के बांग्लादेश दौरे के खिलाफ टीएमसी (TMC reached ec against pm modi) ने मंगलवार को चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है।
 
पीएम मोदी की शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंची TMC, बांग्लादेश दौरे पर दंडात्मक कार्रवाई की मांग

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बीच हुए पीएम मोदी के बांग्लादेश दौरे के खिलाफ टीएमसी (TMC reached ec against pm modi) ने मंगलवार को चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है। टीएमसी ने चुनाव आयोग को एक चिट्ठी लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हालिया बांग्लादेश यात्रा के दौरान आदर्श आचार संहिता की उल्लंघन की शिकायत की। तृणमूल कांग्रेस ने इस मामले में पीएम मोदी के के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की मांग की है।

बता दें कि पीएम मोदी 26 और 27 मार्च को बांग्लादेश की स्वतंत्रता की 50वीं वर्षगांठ के साथ-साथ 'बंगबंधु' शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी के मौके में समारोह में भाग लेने के लिए बांग्लादेश गए थे।

आधिकारिक दौरे से नहीं आपत्ति

चुनाव आयोग को लिखी चिट्ठी (TMC reached ec against pm modi) में तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि उसे प्रधानमंत्री के आधिकारिक उद्देश्य से की गई बांग्लादेश यात्रा पर कोई आपत्ति नहीं है, क्योंकि भारत ने पड़ोसी राष्ट्र की मुक्ति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। हालांकि, इस पत्र ने 27 मार्च को बांग्लादेश में पीएम मोदी के कार्यक्रमों पर कड़ी आपत्ति जताई गई है।

टीएमसी (TMC reached ec against pm modi) ने लिखा, इनका बांग्लादेश की स्वतंत्रता की 50वीं वर्षगांठ या 'बंगबंधु' की जन्म शताब्दी से कोई लेना-देना नहीं था। बल्कि, वे पूरी तरह से और खासतौर पर पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए चल रहे चुनावों में कुछ निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान को प्रभावित करने के लिए गए थे। पार्टी ने कहा, किसी भी प्रधानमंत्री ने इतने अनैतिक और अलोकतांत्रिक काम नहीं किए और विदेशी धरती से अपनी पार्टी के लिए अप्रत्यक्ष रूप से प्रचार करके आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया।

तृणमूल कांग्रेस (TMC reached ec against pm modi) ने आगे जोर देकर कहा कि मोदी की बांग्लादेश में ओरकांडी यात्रा के पीछे का राजनीतिक मकसद इस तथ्य से 'दोगुना साबित' है कि वह अपने साथ पश्चिम बंगाल के एक भाजपा सांसद संतनु ठाकुर को ले गए, जो भारत सरकार में कोई आधिकारिक पद पर नहीं हैं। चुनाव आयोग को पत्र में टीएमसी ने मोदी पर पश्चिम बंगाल की चुनाव प्रक्रिया में विदेशी धरती से हस्तक्षेप करने के लिए अपनी आधिकारिक स्थिति का 'अत्यधिक दुरुपयोग' करने का आरोप लगाया। तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव आयोग से मांग की थी कि वह उनके खिलाफ कार्रवाई करे और 'कठोर दंडात्मक कार्रवाई' करे।

FROM AROUND THE WEB