UP ब्लॉक प्रमुख चुनाव हिंसा: अखिलेश बोले- BJP ने गुंडों को दी खुली छूट, CM योगी के इशारे पर अफसरों ने बंद किए मोबाइल

 
UP ब्लॉक प्रमुख चुनाव हिंसा: अखिलेश बोले- BJP ने गुंडों को दी खुली छूट, CM योगी के इशारे पर अफसरों ने बंद किए मोबाइल

NewzBox Desk: उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख चुनाव (UP Block Pramukh Chunav) के नामांकन में गुरुवार को 16 जिलों में जमकर बवाल हुआ। इसको लेकर बीजेपी सरकार (UP BJP Govt) विपक्षी दलों के निशाने पर आ गई है। 

शुक्रवार को अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि ब्लॉक प्रमुख चुनाव (UP Block Pramukh Chunav) में प्रशासन गुंडों के साथ खड़ा है। महिलाओं का अपमान किया गया। बीजेपी ने गुंडों को छूट दे रखी है। अफसरों ने मोबाइल बंद किया था। ऐसे अफसरों की एसपी सूची बना रही है।

योगी सरकार ने दी गुंडों को खुली छूट

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि पंचायत चुनाव के बाद ब्लॉक प्रमुख के चुनाव (UP Block Pramukh Chunav) में एक कदम आगे निकल गए, गुंडों को पूरी छूट दी है। पुलिस प्रशासन को खुली छूट दी, पर्चा भरने गए लोगों के साथ मारपीट की गई। ऐसा कभी नहीं हुआ है, लेकिन बीजेपी सरकार (UP Govt) में ऐसा हुआ है। पूरे यूपी के जिम्मेदार अधिकारी अपना मोबाइल बंद करके रखा था, जिस सरकार के अधिकारी अपना फोन बंद कर दिए, उनसे क्या उम्मीद करोगे आप, बीजेपी गुंडों को सड़कों पर छोड़े हुए है। बीजेपी हमको गुंडों की पार्टी बोलती थी, लेकिन आज सच सामने है।

हिंसा के खिलाफ एसपी पूरे प्रदेश में करेगी प्रदर्शन

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि मैंने माता प्रसाद पांडेय से बात की, उन्हें अपमानित किया गया। माता प्रसाद नामांकन नहीं कर पाए। समाजवादी पार्टी ने विकास करके दिखाया है। भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री के पास काम बताने के लिए कुछ नहीं है, केवल अपनी ताकत से गिनती बढ़ाना चाहते हैं, जिला पंचायत जनता ने हरा दिया। ब्लॉक प्रमुख चुनाव में हिंसा, धांधली को लेकर 11 जुलाई को एसपी पूरे प्रदेश में प्रदर्शन करेगी। कार्यकर्ता राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपेंगे। सभी ब्लॉक मुख्यालयों पर प्रदर्शन होगा।

लोकतंत्र बचेगा, तभी विकास होगा

अखिलेश (Akhilesh Yadav) ने कहा कि 2022 में जनता इन्हें उखाड़ फेंकेगी। यूपी की जनता बदलाव चाहती है और बहुत जल्दी बदलाव होगा। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र बचेगा तब ही तो विकास होगा। आप वोट डालने जाओगे तो वहां बीजेपी के गुंडे पहले ही बैठे मिलेंगे, जिन्होंने आम जनता के साथ अभद्रता की है, उनके साथ हिसाब किया जाएगा।

मायावती ने किया योगी सरकार पर हमला

वहीं, बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने सोशल मीडिया के जरिए एसपी के शासनकाल का जिक्र करते हुए योगी सरकार पर हमला किया। उन्होंने लिखा, यूपी पंचायत चुनाव में बीजेपी पहले जिला पंचायत अध्यक्ष और अब ब्लाक प्रमुख के चुनाव के दौरान सत्ता व धनबल का दुरुपयोग किया जा रहा है। यह हिंसा एसपी शासनकाल की याद दिला रही है, इसीलिए बीएसपी ने इन दोनों अप्रत्यक्ष चुनाव को नहीं लड़ने का फैसला लिया है।

जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

गुरुवार को नामांकन के दौरान हुए बवाल पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा रुख अपनाया है। उन्होंने शुक्रवार को टीम-9 के साथ बैठक में जिम्मेदार अधिकारियों और माहौल बिगाड़ने पर कठोर कार्रवाई का निर्देश दिया है। कहा कि कई जिलों में अप्रिय घटनाएं हुई हैं। किसी भी दशा में माहौल खराब करने की एक भी कोशिश स्वीकार नहीं जाएगी। पुलिस बल अतिरिक्त सतर्कता और संवेदनशीलता के साथ मुस्तैद रहे। असलहा आदि का प्रदर्शन करने वालों के हथियार जब्त किए जाएं।

इन जिलों में हुई हिंसा

उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में गुरुवार को ब्लॉक प्रमुख चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया पूरी हुई। इस दौरान कन्रौज, सीतापुर, बुलंदशहर, पीलीभीत, झांसी, उन्नाव, अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर, सम्भल, चित्रकूट, जालौन, फतेहपुर, एटा, अंबेडकर नगर, महराजगंज में अराजकता, गुंडा-गर्दी, धांधली, मारपीट, फायरिंग और लूटपाट का आलम दिखाई दिया।

FROM AROUND THE WEB