कांवड़ यात्रा पर जंग: केंद्र-UP को नोटिस, SC ने कहा, PM तो बोले थे जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते!

 
कांवड़ यात्रा पर जंग: केंद्र-UP को नोटिस, SC ने कहा, PM तो बोले थे जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते!

NewzBox Desk: कोविड-19 (Coronavirus in India) के बीच उत्‍तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Govt) के कांवड़ यात्रा (Kanwar yatra 2021) की अनुमति देने से सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) चिंतित है। बुधवार को अदालत ने इस मामले का स्‍वत: संज्ञान लिया। 

जस्टिस आरएफ नरीमन (Justice RF Nariman) की अध्यक्षता वाली बेंच ने केंद्र सरकार (Central Govt) और यूपी सरकार (Yogi Govt) को नोटिस जारी किया है। शुक्रवार को मामले की सुनवाई होगी। अदालत ने तीसरी लहर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की टिप्‍पणी का भी जिक्र किया। अदालत ने कहा कि पीएम ने कहा था कि 'हम जरा भी समझौता नहीं कर सकते।'

कोर्ट के सामने देना होगा हलफनामा

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बुधवार सुबह अखबार में छपी एक रिपोर्ट पर स्वत: संज्ञान लिया, जिसमें कहा गया था कि 25 जुलाई से 6 अगस्त तक कांवड़ यात्रा (Kanwar yatra 2021) प्रस्तावित है। अदालत ने अपने आदेश में कहा है, 'खबर में प्रधानमंत्री के बयान का भी जिक्र है जब वह कुछ मुख्‍यमंत्रियों से मिले और लोगों ने पूछा कि कोविड की तीसरी लहर कब आएगी तो उन्‍होंने कहा कि उसे रोकना हमारे ऊपर है और हम जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते।' कोर्ट ने गृह सचिव से इस खबर पर जवाब देने को कहा है। आदेश में कहा गया कि यूपी और उत्‍तराखंड के प्रमुख सचिव तथा केंद्र के गृह सचिव शुक्रवार सुबह एफिडेविट दाखिल करेंगे।

उत्‍तराखंड ने रद्द कर दी है यात्रा

उत्‍तराखंड सरकार (Uttrakhand Sarkar) ने मंगलवार को कहा कि उसने कांवड़ यात्रा रद्द कर दी है। मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने अधिकारियों के साथ बैठक के बाद यह फैसला क‍िया। बाद में मीडिया से बातचीत में उन्‍होंने कहा, "हमने यात्रा रद्द करने का फैसला क‍िया है। राज्‍य में नया वैरिएंट सामने आया है, ऐसे में हम नहीं चाहते कि हरिद्वार महामारी का केंद्र बने। लोगों की जिंदगी हमारी प्राथमिकता है। हम उसके साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते... हम कोई चांस नहीं लेंगे।" हालांकि यूपी में कोविड से जरूरी सावधानियों के साथ यात्रा की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

PM मोदी ने कोविड पर क्‍या कहा था?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने (PM Narendra Modi)  कहा था, 'मैं बहुत जोर देकर कहूंगा हिल स्टेशन में, मार्केट में, बिना मास्क पहने, बिना प्रोटोकॉल का अमल किए बिना भारी भीड़ का उमड़ना... मैं समझता हूं यह चिंता का विषय है, यह ठीक नहीं है। कई बार हम यह तर्क सुनते हैं और कुछ लोग सीना तानकर बोलते हैं- अरे भाई, तीसरी लहर आने से पहले हम एंजॉय करना चाहते हैं। यह बात लोगों को समझाना जरूरी है कि तीसरी लहर अपने आप नहीं आएगी।'

मंगलवार को एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि 'कई बार लोग सवाल पूछते हैं कि तीसरी लहर के बारे में क्या तैयारी है? तीसरी लहर पर आप क्या करेंगे? आज सवाल यह होना चाहिए हमारे मन में कि तीसरी लहर को आने से कैसा रोका जाए।' उन्‍होंने चेताया कि कोरोना ऐसी चीज है, वह अपने आप नहीं आती है। कोई जाकर ले आए, तो आती है। इसलिए हम अगर सावधानी से रहेंगे, तो तीसरी लहर को रोक पाएंगे।

FROM AROUND THE WEB