माफियाओं पर योगी सरकार का चाबुक, अब तक 11 अरब से ज्यादा की संपत्ति जब्त

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Government action on Mafia) की माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। सीएम के निर्देश पर यूपी पुलिस और उसके तमाम विभाग एक साथ मिलकर माफियाओं के नेटवर्क को ध्वस्त करने में जुटे हैं।
 
माफियाओं पर योगी सरकार का चाबुक, अब तक 11 अरब से ज्यादा की संपत्ति जब्त

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Government action on Mafia) की माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। सीएम के निर्देश पर यूपी पुलिस और उसके तमाम विभाग एक साथ मिलकर माफियाओं के नेटवर्क को ध्वस्त करने में जुटे हैं। सरकार की इस कार्रवाई से यूपी में संगठित अपराध में लिप्त माफियाओं की कमर टूट गई है। 

योगी सरकार ने प्रदेश भर में माफियाओं (Yogi Government action on Mafia) के खिलाफ की गई कार्रवाई के आंकड़े जारी किए हैं। इसमें बताया है कि जनवरी 2020 से अप्रैल 2021 तक कुल 5558 मामले दर्ज किए गए, जिनमें 22,259 अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

यूपी सरकार द्वारा सूचीबद्ध 25 माफियाओं (Yogi Government action on Mafia) के खिलाफ की गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई के तहत 11 अरब, 28 करोड़, 23 लाख 97,846 रुपये (11,28,23,97846 रुपये) की चल-अचल संपत्ति जब्त की गई। इसमें अतीक अहमद गैंग की सबसे ज्यादा 3 अरब, 25 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है। वहीं उसके बाद मुख्तार अंसारी गैंग की करीब 2 करोड़ की संपत्ति को जब्त किया गया है।

माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ कार्रवाई (मई 2021 तक)

माफिया मुख्‍तार अंसारी गैंग (Yogi Government action on Mafia) के 244 सदस्यों पर आजमगढ़, मऊ, वाराणसी में की गई कार्रवाई में 1 अरब 94 करोड़ 82 लाख 67 हजार 859 रुपये की संपत्ति ध्वस्त/जब्त की गई। जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, मुख्तार गैंग के 158 अपराधी हुए गिरफ्तार, तो 122 असलहों के लाइसेंस निरस्त होने के साथ 110 अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर लगा है। वहीं 30 के खिलाफ गुंडा एक्ट और 6 पर NSA की कार्रवाई की गई है।

इसके अलावा माफिया अतीक अहमद और उसके 89 गुर्गों पर प्रयागराज क्षेत्र में की गई कार्रवाई में अब तक 3 अरब, 25 करोड़ 87 लाख की सम्पत्ति ध्वस्त/जब्त की गई। यहां से अतीक गैंग के 60 सदस्यों के असलहे निरस्त हुए, तो गैंग के खिलाफ 21 मुकदमे दर्ज कर 9 को भेजा जेल। 11 के खिलाफ गुंडा एक्ट लगा और एक के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है।

माफिया सुंदर भाटी पर कार्रवाई

आंकड़ों के अनुसार, माफिया सुंदर भाटी गैंग के 9 सदस्यों पर की गई कार्रवाई (Yogi Government action on Mafia) में 63 करोड़ 24 लाख 53 हजार की संपत्ति ध्वस्त/जब्त की गई है। इस गैंग के 4 शस्त्र लाइसेंस निरस्त किए गए, जबकि 3 को भेजा गया जेल और 2 के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है।

माफिया ध्रुव कुमार उर्फ कुंटू सिंह पर कार्रवाई

इसके अलावा माफिया कुंटू सिंह गैंग के 43 सदस्यों के खिलाफ हुई कार्रवाई (Yogi Government action on Mafia) में 20 मुकदमे दर्ज कर 43 की गिरफ्तारी की गई है।  कुंटू गैंग के 4 सदस्यों के खिलाफ गुंडा एक्ट, 24 के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की गई। जब्ती की बात करें तो कुंटू सिंह गैंग के खिलाफ 17 करोड़ 91 लाख 96 हजार रुपए मूल्य की सम्पत्ति ध्वस्त/जब्त की गई।

इन माफियाओं को हुई सजा

सूचीबद्ध माफियाओं में संजीव उर्फ जीवा (मुजफ्फरनगर), ओमप्रकाश उर्फ बब्लू श्रीवास्तव (कमिश्नरेट लखनऊ), सुंदर भाटी,सिंहराज भाटी (कमिश्नरेट नोएडा) को आजीवन कारावास सज़ा हुई है।

माफिया आकाश जाट को 2 मुकदमों में 7 वर्ष, 3 वर्ष की अलग- अलग सज़ा हुई है, जबकि इस गैंग के सदस्य अमित उर्फ भूरा को 3 साल व 1 साल की सज़ा करवाई गई है।

सूचीबद्ध माफियाओं के अलग 8 अन्य कुख्यात अपराधियों के खिलाफ अब तक 40 करोड़ रु। मूल्य की संपत्ति ध्वस्त/जब्त की गई। वहीं, 2 के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है।
 

FROM AROUND THE WEB