सिटी मजिस्ट्रेट और सेना के अफसर ने पेश की सादगी की मिसाल, मात्र 500 रुपये में की शादी

 
सिटी मजिस्ट्रेट और सेना के अफसर ने पेश की सादगी की मिसाल, मात्र 500 रुपये में की शादी

NewzBox DesK: धार (Dhar) में सोमवार को हुई एक शादी ने मिसाल पेश की। ये मिसाल किसी आम लड़की ने नहीं बल्कि खुद सिटी मजिस्ट्रेट और भारतीय सेना (Magistrate Army Officer Marry) के एक अफसर ने पेश की। दोनों ने बिना कोई दहेज (Dowry) या दान दक्षिणा और शोर शराबे के शादी की। कुल खर्च आया सिर्फ 500 रुपये। 

शादी लोग बड़ी धूमधाम से करते हैं और जब शादी किसी सरकारी अधिकारी की हो तो फिर क्या कहना। इसके तो नजारे ही अलग होते हैं लेकिन धार की एक महिला अधिकारी ने शादी के नाम पर आडंबर और फिजूलखर्ची रोकने के लिए एक उदाहरण पेश किया। ये महिला अधिकारी हैं धार की सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी। उन्होंने सेना के अफसर मेजर अनिकेत से कोर्ट मैरिज की। इस शादी के लिए कोर्ट में 500 रुपये उन्होंने जमा कराए और दोनों अफसर शादी के पवित्र बंधन में बंध गए।

फौजी से शादी

धार की सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी (City Magistrate Shivangi Joshi) भोपाल की रहने वाली हैं लेकिन इन दिनों वो धार में पदस्थ हैं। उनके परिवार वालों ने उनका रिश्ता भारतीय सेना में मेजर अनिकेत चतुर्वेदी (Army Major Aniket Chaturvedi) से तय किया था। अनिकेत भी भोपाल के रहने वाले हैं। इन दिनों लद्दाख में पदस्थ हैं। रिश्ता काफी पहले तय हो गया था लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण शादी टलती जा रही थी।

सादगी से शादी

सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी (City Magistrate Shivangi Joshi) क्योंकि धार में पोस्टेड हैं इसलिए उन्होंने शादी के लिए धार को ही चुना। यहां कोर्ट में दोनों अफसरों ने शादी की। इसमें न कोई शोर-शराबा न ढोल ढमाका न कोई फिजूलखर्ची। शादी में वर और वधु पक्ष के परिवार के चुनिंदा सदस्य, स्टाफ के लोग और कलेक्टर आलोक कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे। कलेक्टर ने भी इसे अच्छी पहल बताया है।

ये है संदेश

सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी पिछले दो साल से धार में सेवाएं दे रही हैं। सादगी से शादी करने का उनका मकसद दहेज जैसी कुप्रथा रोकने के लिए ये संदेश देना था कि लोग शादियों में फिजूलखर्च न करें। इससे न केवल लड़की के परिवार पर बोझ पड़ता है बल्कि पैसों का दुरुपयोग भी होता है।

FROM AROUND THE WEB