अपरा एकादशी 2019: आज शाम दीपक जलाकर तुलसी के सामने बोलें ये मंत्र, आर्थिक तंगी होगी दूर

Ekadashi Tulsi Lord Vishnu
New Delhi: हिंदू धर्म में ज्येष्ठ माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी को अपरा एकादशी (Apara Ekadashi) कहा जाता है। इस बार अपरा एकादशी आज यानि 30 मई को मनाई जा रही है।

अपरा एकादशी को अचला एकादशी और भद्रकाली एकादशी (Apara Ekadashi) भी कहते हैं। भगवान विष्णु को समर्पित इस व्रत को विधि-विधान के साथ पूर्ण करने से कई हजार गुना पुण्य मिलता है। इसके अलावा कई ऐसे उपाय भी बताएं गए हैं, इन्हें अपनाने से मनुष्य का जीवन धन-धन्य से भर जाता है।

यह भी पढ़े: देवशयनी एकादशी: आज ऐसे करें विष्णुजी की पूजा..जानें शुभ मुहूर्त, व्रत कथा और महत्‍व

तुलसी को छू लेने से मनुष्य हो जाता है पवित्र

सूर्यास्त के समय तुलसी (Tulsi) के सामने डिंपल जलाना चाहिए। साथ ही एक मंत्र का जाप करना चाहिए। इससे व्यक्ति को जीवन की परेशानियों से हमेशा के लिए मुक्ति मिल जाती है।

मान्यता है कि तुलसी के पौधे के बिना श्रीनारायण की पूजा सफल ही नहीं होती है। तुलसी के पौधे को केवल छू लेने से ही मनुष्य के पाप कट जाते हैं। तुलसी के पौधे को स्वर्ग का पौधा भी कहा जाता है। इसमें कई देवी-देवताओं का वास भी माना गया है।

सुबह जल चढ़ाएं और शाम को तुलसी के नीचे जलाएँ दीपक

विष्णुपुराण के अनुसार, यदि घर के मुख्य द्वार पर तुलसी का पौधा लगाया जाए तो घर में हमेशा सुख-शांति बनी रहती है और घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। तुलसी (Tulsi) के पौधे को सुबह जल चढ़ाने और शाम के समय उसके नीचे घी का डिंपल जलने से घर-परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहती है। दीपक जलाने के बाद यह मंत्र बोलने से शुभ फल की प्राप्ति भी होती है।

यह भी पढ़े: अपरा एकादशी 2019: अपार धन-दौलत दिलाता है यह व्रत, जानें क्या है इसका महत्व

मंत्र

महाप्रसाद जननी,सर्व सौभाग्यवर्धिनी आधि व्याधि हरा नित्यं,तुलसी त्वं नमोस्तुते।।

अर्थ: तुलसी आप जीवन में सभी प्रकार से सौभाग्यों को बढ़ाने वाली हैं। हमेशा आप लोगों की बीमारियों को दूर करके उन्हें स्वस्थ्य रखती हैं। हम आपको नमस्कार करते हैं।