Haridwar Kumbh 2021: हरिद्वार कुंभ के लिए उत्तराखंड सरकार ने किया शाही स्नान की तारीखों का ऐलान

Haridwar Kumbh 2021
New Delhi: उत्तराखंड सरकार ने 2021 (Haridwar Kumbh 2021) में होने वाले हरिद्वार कुंभ मेले से पहले प्रमुख स्नान पर्वों और शाही स्नान की तारीखों का ऐलान कर दिया है।

धर्मगुरुओं और अखाड़ों की सहमति के बाद हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में सरकार ने तारीखों (Haridwar Kumbh 2021) की घोषणा की है। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अधिकारियों को समय से विकास कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही शासन स्तर पर तैयारियों की निगरानी के निर्देश दिए गए हैं।

अधिकारियों के अनुसार, कुंभ मेले (Haridwar Kumbh 2021) में शाही स्नान की शुरुआत शिवरात्रि से होगी। इस क्रम में 11 मार्च 2021- महाशिवरात्रि, 12 अप्रैल 2021- सोमवती अमावस्या, 14 अप्रैल 2021- बैसाखी और 27 अप्रैल 2021- चैत्र पूर्णिमा के दिन पूरे विधि विधान से शाही स्नान का क्रम संपन्न होगा।

इसके अलावा श्रद्धालु 14 जनवरी 2021- मकर संक्रांति, 11 फरवरी 2021- मौनी अमावस्या, 16 फरवरी 2021- बसंत पंचमी, 27 फरवरी 2021- माघ पूर्णिमा, 13 अप्रैल 2021- चैत्र शुक्ल प्रतिपदा और 21 अप्रैल 2021- राम नवमी के प्रमुख स्नान पर्वों में भी हिस्सा लेंगे।

निर्धारित समय पर पूरा किया जाए काम

मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान जल संस्थान के अधिकारियों को सीवर के कार्यों में तेजी लाते हुए निर्धारित समय पर कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने एनएचएआई को भी कुंभ क्षेत्र में नैशनल हाइवे के कार्यों को पूरा करने के लिए कहा। सीएम ने कहा कि कुंभ से पहले सारे काम समय से पूरा कराए जाएं और अगर किसी भी तरह की दिक्कत सामने आए तो शासन को इससे अवगत कराया जाए।

कुंभ में कराए जाएंगे सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रमुख संतों को आवश्यक सुरक्षा एवं अखाड़ों से लगातार संपर्क कर कुंभ मेले हेतु कार्य किए जाएं। उन्होंने कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए समयबद्धता के साथ कार्य किया जाए।

उन्होंने कहा कि कुंभ क्षेत्र में निर्माण कार्यों के लिए निर्माण सामग्री की आवश्यकता के अनुसार विभागों को पट्टे आवंटित किए जाएंगे। इसके लिए दिन रात कार्य करने हेतु परमिट दिया जाएगा। इसके साथ ही संत समाज के सहयोग की विशेष अपेक्षा होगी, जिससे कि आयोजन को सही ढंग से पूरा कराया जा सके।