काशी महाकाल एक्सप्रेस ट्रेन के डिब्बे में भगवान शिव का मंदिर, हर कोच में है CCTV

Kashi Mahakal Express
New Delhi: स्टेशन पर धार्मिक स्थल आपने सुना होगा, लेकिन क्या ट्रेन के अंदर कभी ऐसा कुछ देखा है? अगर नहीं हो अब देखेंगे। काशी महाकाल एक्सप्रेस (Kashi Mahakal Express) की एक सीट को मंदिर का रूप दे दिया गया है।

मंदिर में शिव की मूर्ति लगाई गई है। बता दें कि यह ट्रेन (Kashi Mahakal Express) वाराणसी से इंदौर के बीच चलेगी। पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को इसको हरी झंडी दिखाई थी। जिस कोच में मंदिर बनाया गया है उसकी तस्वीर भी सामने आई है। मिली जानकारी के मुताबिक, ट्रेन के कोच बी5 की सीट नंबर 64 को शिव का मंदिर बनाया गया है। यह ट्रेन 20 फरवरी से शुरू होगी।

इस ट्रेन में कई अन्य खूबियां भी हैं, जैसे काशी महाकाल एक्सप्रेस (Kashi Mahakal Express) देश की पहली ऐसी ट्रेन है जिसका हर कोच सीसीटीवी कैमरे से लैस है। आईआरसीटीसी के चीफ रीजनल मैनेजर अश्विनी श्रीवास्तव ने बताया कि काशी महाकाल एक्सप्रेस के हर कोच में छह-छह सीसीटीवी कैमरों के जरिए सुरक्षा की निगरानी की जाएगी।

इसके लिए हर कोच में एक कंट्रोल बनाया गया है। आईआरसीटीसी के पास एक महीने से अधिक समय तक विडियो फुटेज मौजूद रहेंगे। उन्होंने बताया कि ट्रेन के प्रत्येक यात्री को 10 लाख रुपये का बीमा फ्री दिया जाएगा, इसका कोई भी प्रीमियम यात्री से नहीं लिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि टिकट बुकिंग की सुविधा के लिए स्टॉपेज वाले स्टेशनों पर आरक्षण काउंटर खोले जाएंगे, जबकि ट्रेन की साइड लोअर बर्थों के दो हिस्सों को एक साइड सपोर्ट से जोड़ा जाएगा। इससे यात्रियों को सफर के दौरान अब पीठ दर्द की शिकायत नहीं होगी। ट्रेन की हर केबिन में छह-छह चार्जिंग पॉइंट की सुविधा भी मिलेगी।

काशी महाकाल एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए कई पैकेज

यह ट्रेन उज्जैन, ओंकारेश्वर, महेश्वर, इंदौर व भोपाल घूमने का मौका देगी। आईआरसीटीसी ने इस ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों के लिए कई पैकेज भी बनाए हैं। इनमें उज्जैन व इंदौर से आने वालों को वाराणसी, काशी, अयोध्या व प्रयागराज घूमने का मौका मिलेगा। वहीं लखनऊ, प्रयागराज व वाराणसी से उज्जैन जाने वालों के लिए दूसरे पैकेज बनाए गए हैं।

उज्जैन-ओंकारेश्वर जाने वालों को दो रात तीन दिन के 9420 रुपये के पैकेज में महाकालेश्वर ज्योर्तिलिंग मंदिर, कालभैरव मंदिर, राममंदिर घाट, हरसिद्धि मंदिर और ओंकारेश्वर ज्योर्तिलिंग के दर्शन करवाए जाएंगे। वहीं 12,450 रुपये के तीन रात व चार दिनो के पैकेज में उज्जैन-ओंकारेश्वर-महेश्वर-इंदौर का भ्रमण करवाया जाएगा। इसमें इंदौर, महेश्वर में होल्कर किला, नर्मदा घाट व शिव मंदिर को भी जोड़ा जाएगा। इसके अलावा 14,950 रुपये में भोपाल, सांची, भीमवेट का-उज्जैन का भ्रमण करवाया जाएगा। यह पैकेज तीन रातों व चार दिनों का होगा।

उज्जैन से आने वालों को वाराणसी, प्रयाग व अयोध्या घुमाएंगे

उज्जैन या इंदौर से आने वाले यात्रियों को 6,010 रुपये के एक रात व दो दिन के पैकेज में वाराणसी के घाट, काशी विश्वनाथ मंदिर, संकटमोचन मंदिर और दशाश्वमेघ घाट पर गंगा आरती के दर्शन करवाए जाएंगे। 10,050 रुपये प्रति यात्री के हिसाब से दो रात, तीन दिनों के पैकेज में वाराणसी के घाट, काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर और दशाश्वमेघ घाट पर गंगा आरती, सारनाथ, प्रयाग में संगम व हनुमान जी के दर्शन करवाए जाएंगे।

इनके अलावा उज्जैन व इंदौर से आने वालों को 14,770 रुपये में तीन रात, चार दिन के पैकेज में वाराणसी के घाट, काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर और दशाश्वमेघ घाट पर गंगा आरती, सारनाथ, अयोध्या में श्रीराम मंदिर, हनुमानगढ़ी, शृंगवेरपुर के साथ ही प्रयाग में संगम व हनुमान जी के दर्शन करवाए जाएंगे।