8 ICC टूर्नामेंट के लिए 17 देश तैयार, BCCI 3 टूर्नामेंट देश में कराने का इच्छुक

ICC की एक रिपोर्ट के अनुसार, BCCI ने पिछले महीने तीन ग्लोबल आयोजनों की मेजबानी के लिए दावा पेश करने का फैसला किया है, जिसमें छोटे प्रारूपों के दो वर्ल्ड भी कप शामिल हैं।

 
8 ICC टूर्नामेंट के लिए 17 देश तैयार, BCCI 3 टूर्नामेंट देश में कराने का इच्छुक

NewzBox Desk: भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड उन 17 सदस्य देशों (17 Countries Interest in BCCI Events) में शामिल हैं, जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) के इवेंट के आयोजन में दिलचस्पी दिखाई है। 2024 से 2031 तक के अगले 8 साल के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (FTP) के राउंड में सीमित ओवरों के कुल 8 ग्लोबल इवेंट होने हैं। 

ICC ने सोमवार को यह जानकारी दी। एक रिपोर्ट के अनुसार, BCCI ने पिछले महीने तीन ग्लोबल आयोजनों की मेजबानी के लिए दावा पेश करने का फैसला किया है, जिसमें छोटे प्रारूपों के दो वर्ल्ड भी कप शामिल हैं।

साल 2024 से शुरू होने वाले अगले चक्र (FTP) के दौरान भारतीय बोर्ड (BCCI) किसी भी मेजबानी शुल्क का भुगतान करने के पक्ष में नहीं है। BCCI के लिए एक अहम मुद्दा कर छूट का भी होगा, जो उसे किसी भी ICC आयोजन की मेजबानी के लिए अपनी सरकार से हासिल करना जरूरी है। 

BCCI ने मेजबानी का यह फैसला (17 Countries Interest in BCCI Events) शीर्ष समिति की अपनी पिछली बैठक के दौरान लिया। यह पता चला कि BCCI अगले चक्र में एक चैंपियंस ट्रॉफी (Champions Trophy), एक टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) और वनडे वर्ल्ड (ODI World Cup) कप की मेजबानी के लिए दावा पेश किया है।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फैसला अलग से

अगले चक्र में टूर्नामेंटों की संख्या बढ़ाने के बाद ICC ने 2023 के बाद होने वाले पुरुषों की सीमित ओवरों की स्पर्धाओं के लिए मेजबानों की पहचान करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। ICC ने एक विज्ञप्ति में बताया कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल की मेजबानी, ICC महिला और अंडर-19 इवेंट को नए चक्र में एक अलग प्रक्रिया के तहत निर्धारित किया जाएगा, जो इस साल के अंत में शुरू होगी।

नामीबिया और ओमान भी रेस में

अगले चक्र में पुरुषों की कुल 8 वनडे और टी20 इंटरनेशनल टूर्नामेंटों का प्रावधान है। इसमें 2024 से 2031 तक वनडे वर्ल्ड कप के दो , टी20 वर्ल्ड कप के चार और आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के दो आयोजन शामिल हैं।

सदस्यों को संभावित मेजबान के रूप में प्रारंभिक तकनीकी प्रस्ताव जमा करने के लिए आमंत्रित किया गया था। इसमें देशों के पास अकेले और संयुक्त मेजबानी का प्रस्ताव पेश करने का विकल्प शामिल था। ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, भारत, आयरलैंड, मलेशिया, नामीबिया, न्यूजीलैंड, ओमान, पाकिस्तान, स्कॉटलैंड, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, संयुक्त अरब अमीरात, अमेरिका और जिम्बाब्वे से आईसीसी को प्रारंभिक प्रस्तुतियां मिली हैं।

फिर से शुरू होगी चैंपियंस ट्रॉफी

आईसीसी के कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्योफ एलार्डिस ने कहा, ‘ हम 2023 के बाद आईसीसी पुरुषों की सीमित ओवरों की स्पर्धाओं की मेजबानी करने के लिए अपने सदस्यों की प्रतिक्रिया से खुश हैं। यह प्रक्रिया हमें मेजबानों की अपनी सीमा का विस्तार करने और क्रिकेट में रुचि बढ़ाने का अवसर देती। इससे खेल को अधिक प्रशंसकों तक पहुंचने के साथ-साथ एक दीर्घकालिक विरासत का निर्माण भी होगा।’ उन्होंने कहा, ‘दुनिया भर में क्रिकेट के एक अरब से अधिक प्रशंसक हैं और आईसीसी आयोजनों से मेजबान देशों को आर्थिक और सामाजिक लाभ मिलने का प्रमाण है।’

चैंपियंस ट्रॉफी को इंग्लैंड में 2017 में हुए पिछले आयोजन के बाद बंद कर दिया गया था, लेकिन आईसीसी ने हाल ही में घोषणा की थी कि अगले एफटीपी में इसे फिर से शुरू किया जाएगा। भारत ने इसकी मेजबानी का दावा पेश करने का फैसला किया है।

FROM AROUND THE WEB