Tokyo Olympics 2020: 126 खिलाड़ी टोक्यो ओलिंपिक में पेश करेंगे दावेदारी

 
Tokyo Olympics 2020: 126 खिलाड़ी टोक्यो ओलिंपिक में पेश करेंगे दावेदारी

NewzBox Desk: टोक्यो ओलिंपिक 2020 (Tokyo Olympics 2020) की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। खेलों के इस महाकुंभ के शुरू होने में दो सप्ताह से भी कम का समय शेष है। कोरोनावायरस महामारी के कारण इस बार ओलिंपिक में दर्शकों की उपस्थिति नहीं होगी। इसका आयोजन 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होगा।

भारत की ओर से टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics 2020) में 126 एथलीट हिस्सा लेंगे। भारत को टोक्यो ओलिंपिक में शटलर पीवी सिंधु (PV Sindhu), शूटर सौरभ चौधरी, भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra)और तीरंदाज दीपिका कुमारी (Deepika Kumari) से पदक की उम्मीदें हैं।
रेसलिंग में बजरंग पर होगी निगाहें

टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics 2020) में रेसलिंग में भारत को पुरुष वर्ग में बजरंग पूनिया (Bajrang Punia) से पदक की उम्मीद है। बजरंग पुरुषों के 65 किलोग्राम कैटेगरी में हिस्सा लेंगे। पिछले कुछ वर्षों में बजरंग ने इंटरनैशनल टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। तोक्यो में बजरंग दूसरी सीड के रूप में उतरेंगे। बजरंग के मौजूदा फॉर्म को देखते हुए उन्हें ओलिंपिक में पदक के दावेदार के रूप में उतरेंगे।

यादगार बनाना चाहेंगी मैरीकॉम

छह बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरीकॉम (MC Mary Kom) टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics 2020) में महिला वर्ग में 51 किलोग्राम कैटेगरी में अपनी चुनौती पेश करेंगी। सुपर मॉम के नाम से फेमस मैरीकॉम ने लंदन ओलिंपिक में कास्य पदक अपने नाम किया था। इस बार मैरीकॉम ओलिंपिक में दूसरा पदक जीत इतिहास रचना चाहेंगी। मैरीकॉम का संभवत: यह आखिरी ओलिंपिक होगा। ऐसे में वह इस ओलिंपिक में शानदार प्रदर्शन कर यादगार बनाना चाहेंगी।

शूटिंग में सौरभ चौधरी पदक के मजबूत दावेदार

भारत के युवा शूटर सौरभ चौधरी (Sourabh Chaudhary) तोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics 2020) में पदक के मजबूत दावेदार हैं। सौरभ ने हाल में वर्ल्ड रैंकिंग में दूसरा स्थान हासिल किया है। वह तोक्यो में पुरुषों के 10 मीटर एयर पिस्टल और मिक्स्ड 10 मीटर एयर पिस्टल कैटेगरी में हिस्सा लेंगे। 19 वर्षीय सौरभ 2018 एशियाई खेलों में गोल्ड जीतने वाले सबसे युवा शूटर बने थे।

आर्चरी में दीपिका कुमारी से उम्मीदें

पिछले एक दशक से दीपिका कुमारी भारतीय तीरंदाजी का चेहरा बनी हुई हैं। दीपिका ने 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में दो गोल्ड मेडल जीते थे। इसके अलावा उन्होंने गुंआझू में खेले गए एशियाई खेलों में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था। तोक्यो दीपिका का तीसरा ओलिंपिक होगा। उन्होंने लंदन और रियो ओलंपिक में भी हिस्सा लिया था। हाल में दीपिका में आर्चरी वर्ल्ड कप में गोल्ड मेडल जीतकर बेहतरीन फॉर्म दिखाई है। दीपिका से तोक्यो में भी पदक की उम्मीद है।

एथलेटिक्स में नीरज चोपड़ा से आस

भारत को ओलिंपिक में एथलेटिक्स इवेंट में अब भी अपने पहले पदक का इंतजार है। इस बार ट्रैक एंडी फील्ड प्रतियोगिता में स्टार भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा से पदक की उम्मीद की जा रही है। नीरज ने एशियाई खेलों और कॉमनवेल्थ गेम्स (2018) में गोल्ड मेडल जीता था। पिछले साल जनवरी में 88.07 मीटर दूर भाला फेंक नीरज ने तोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। यदि नीरज इससे बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रहते हैं तो निश्चिततौर पर भारत इस बार एथलेटिक्स में पदक जीत सकता है।

मेडल का रंग बदलने पर होगा सिंधु का ध्यान

रियो ओलिंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु तोक्यो ओलिंपिक में महिला सिंगल्स में भारत की ओर से चुनौती पेश करेंगी। पिछली बार सिंधु गोल्ड से चूक गई थीं। रियो ओलिंपिक में फाइनल में सिंधु को स्पेन की कैरोलीना मारिन ने पराजित किया था। इस बार सिंधु से पदक का रंग बदलने की उम्मीद है। मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन सिंधु तोक्यो में भारत की ओर से मेडल की प्रबल दावेदार के रूप में उतरेंगी।

FROM AROUND THE WEB