Whatsapp के नए फीचर, बेहतर Privacy और Security से बढ़ी यूजर्स की ताकत

WhatsApp Privacy and Security Feature
New Delhi: इंस्टैंट मेसेजिंग ऐप Whatsapp 1.5 अरब से ज्यादा यूजर्स के साथ दुनिया का सबसे पॉप्युलर इंस्टैंट मेसेजिंग ऐप बना हुआ है। भारत की अगर बात करें तो यहां इसके 20 करोड़ से ज्यादा डेली ऐक्टिव यूजर हैं। हालांकि, फेसबुक की कंपनी होने के कारण अक्सर इसकी सिक्यॉरिटी (WhatsApp Security Feature) और प्रिवेसी पॉलिसी (WhatsApp Privacy Feature) पर सवाल उठते रहे हैं।

अगर आप भी उन यूजर्स में से हैं जिन्हें वॉट्सऐप पर अपनी प्रिवेसी (WhatsApp Privacy Feature) को लेकर चिंता रहती है, तो आज हम आपको वॉट्सऐप के कुछ खास फीचर्स के बारे में बता रहें हैं जिनके जरिए आप बिना किसी टेंशन वॉट्सऐप का लुत्फ उठा सकेंगे।

ग्रुप में ऐड करना हुआ मुश्किल

वॉट्सऐप द्वारा रोलआउट किया जाने वाला यह सबसे लेटेस्ट फीचर है। इस फीचर के आने के बाद अब यूजर यह तय कर सकेंगे की उन्हें ग्रुप में कौन ऐड कर सकता है और कौन नहीं। यह फीचर वॉट्सऐप की प्रिवेसी सेटिंग में दिए गए ग्रुप ऑप्शन में मिलेगा। यहां आपको पहले तीन ऑप्शन ‘everyone’, ‘my contacts’, और ‘nobody’ मिलते थे। अब आपको who can add me to a group सेटिंग के नीचे ‘my contacts except’ का एक नया ऑप्शन मिलेगा। इस ऑप्शन को पहले आने वाले ‘nobody’ से रिप्लेस किया गया है। नए ऑप्शन के जरिए आप कॉन्टैक्ट्स में उन लोगों को सिलेक्ट कर सकते हैं जिनके द्वारा आप किसी ग्रुप में खुद को ऐड नहीं करवाना चाहते।

फिंगरप्रिंट लॉक

वॉट्सऐप ने हाल में इस फीचर को ऐंड्रॉयड यूजर्स के लिए रोलआउट किया है। इस फीचर की खास बात है कि यूजर अब अपने स्मार्टफोन में दिए गए फिंगरप्रिंट स्कैनर मेकनिजम से चैट को सिक्यॉर कर सकते हैं। इस फीचर को इस्तेमाल करने के लिए ऐप के अंदर फिंगरप्रिंट लॉक का ऑप्शन उपलब्ध करा दिया गया है। यह ऑप्शन आपको वॉट्सऐप सेटिंग के अकाउंट ऑप्शन के अंदर दिए गए प्रिवेसी सेक्शन में मिलेगा। यह फीचर iOS में पहले से उपलब्ध है। यानी, iPhone इस्तेमाल करने वाले यूजर अपने वॉट्सऐप को टच आईडी या फेस आईडी से खोल सकते हैं।

कई बार फॉरवर्ड हुए मेसेज

इस फीचर के आने के बाद अब यूजर्स यह जान सकते हैं कि कोई मेसेज क्रिएट किया गया है या उसे पहले भी कई बार फॉरवर्ड किया जा चुका है। कई बार फॉरवर्ड किए गए मेसेज को वॉट्सऐप फ्रीक्वेंटली मेसेज के साथ मार्क करके दिखाएगा। वहीं अगर यूजर किसी फॉरवर्डेड मेसेज को आगे फॉरवर्ड करते हैं, तो भी वॉट्सऐप उन्हें नोटिफाइ करेगा कि उस मेसेज को पहले भी कई बार फॉरवर्ड किया जा चुका है। इसके बाद यह यूजर पर निर्भर करता है कि वह उस मेसेज को आगे भेजना चाहता है या नहीं। फेक न्यूज और गलत जानकारियों को फैलने से रोकने के लिए वॉट्सऐप ने यह फीचर रोलआउट किया है।

सेव नहीं होगा प्रोफाइल फोटो

वॉट्सऐप ने यूजर्स की प्रिवेसी और सिक्यॉरिटी को बेहतर करने के लिए इस फीचर को इंट्रोड्यूस किया है। वॉट्सऐप पर किसी के प्रोफाइल फोटो को सेव, कॉपी या फॉर्वर्ड करना मुमकिन नहीं है। शुरुआत में यूजर्स दूसरे वॉट्सऐप यूजर्स की फोटो को सेव और फॉरवर्ड कर सकते थे। हालांकि, ग्रुप्स के लिए यह फीचर काम नहीं करता और यूजर ग्रुप आइकन्स को सेव कर सकते हैं।

ग्रुप एडमिन को करें डिस्मिस

अगर आप अपने ग्रुप के किसी एडमिन द्वारा भेजे जाने वाले मेसेज को गलत समझते हैं तो आप उसे हटा सकते हैं। इसके लिए आपको ग्रुप इन्फो ऑप्शन में उस व्यक्ति के नाम पर थोड़ी देर के लिए प्रेस करना है। ऐसा करते ही आपको रिमूव ऐज एडमिन का ऑप्शन दिखेगा।

ग्रुप में मेसेज भेजने से रोक सकेगा ऐडमिन

वॉट्सऐप अपने इस फीचर को जरिए ग्रुप ऐडमिन को एक्स्ट्रा पावर देता है। इस फीचर का इस्तेमाल कर ऐडमिन अब किसी भी मेंबर को ग्रुप में मेसेज भेजने से रोक सकता है। यह फीचर खासतौर से उन ग्रुप्स के लिए काफी काम का है जिसमें ऐडमिन द्वारा भेजे जाने वाले मेसेज ही जरूरी होते हैं और इन ग्रुप डिस्कशन्स की कोई खास जरूरत नहीं होती। इसका एक और फायदा है कि लंबी डिस्कशन के कारण ग्रुप ऐडमिन के जरूरी मेसेज को लंबे चैट थ्रेड में ढूंढने के लिए परेशान नहीं होना पड़ता।