Indian Navy Day: नौसेना दिवस, जानें कहां है अपनी नौसेना… क्या है ताकत और जरूरत

Indian Navy Day
New Delhi: नेवी डे (Indian Navy Day) से पूर्व नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने नौसेना के ऑपरेशन और देश की समुद्री सीमाओं की रक्षा करने को लेकर कई बड़ी जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने नौसेना की बढ़ती ताकत और जरूरतों के बारे में भी बताया।

नौसेना प्रमुख ने भी इस बात पर जोर दिया कि नेवी को अभी और मजबूत करने की जरूरत है। आज नेवी डे (Indian Navy Day) है। ऐसे में आइए जानते हैं कि हमारी नेवी इस वक्त कहां खड़ी है?

वर्तमान ताकत

भारत के पास इस समय 140 युद्धपोत हैं, जिसमें आईएनएस विक्रमादित्य, 10 विध्वंसक, 14 छोटे युद्धपोत और 11 वाहक के अलावा 15 डिजल और इलेक्ट्रिक सबमरीन और 2 न्यूक्लियर सबमरीन हैं। इसके अलावा हमारी नेवी के पास 235 एयरक्राफ्ट और हेलिकॉप्टर हैं।

क्या है जरूरत?

भारत को फिलहाल 212 युद्धपोत और चाहिए, जिनमें से 175 के जल्द मिलने की संभावना है। साथ ही 458 एयरक्राफ्ट और हेलिकॉप्टर चाहिए, जिनमें से 320 के जल्द मिलने की संभावना है।

अंडर कंस्ट्रक्शन
  • 50 युद्धपोत, इसमें आईएनएस विक्रांत, 4 स्कॉर्पीन सबमरीन, 4 विध्वंसक, 11 फ्राइगेट्स शामिल हैं। इनकी कीमत 1.58 करोड़ रुपये बताई जा रही है।
  • इसके साथ 48 भारतीय शिपयार्ड्स और 2 रूसी फ्रीगेट्स भर शामिल हैं।
  • इसके अलावा, 3 परमाणु पनडुब्बी (न्यूक्लियर मिसाइल के साथ), 6 हजार टन का आईएनएस अरिहंत, 6 न्यूक्लियर अटैक सबमरीन भी निर्माणाधीन हैं।
प्रस्तावित प्रॉजेक्ट
  • 1.25 लाख करोड़ रुपये के 41 युद्धपोतों को ‘ऐक्सेप्टेंस ऑफ नेसिसिटी (AoN)’ मिल चुका है।
  • 6 डीजल-इलेक्ट्रिक सबमरीन को प्रॉजेक्ट 75 इंडिया के तहत अनुमति मिल चुकी है। जिनकी कीमत करीब 50 हजार करोड़ रुपये बताई जा रही है।
  • 13 हजार करोड़ रुपये के पी-8आई एयरक्राफ्ट, 3600 करोड़ रुपये के 10 कामोव-31 हेलिकॉप्टरों, 24 मल्टिरोल एमएच-10 रोमियो हेलिकॉप्टरों को एओएन मिल चुका है।
  • इसके अतिरिक्त नौसेना 65हजार टन के इंडिजिनियस एयरक्राफ्ट (आईएनएस विशाल) के लिए भी दबाव बना रही है, जिसकी कीमत करीब 45 हजार करोड़ रुपये मानी जा रही है।