भगोड़े नित्यानंद ने बनाया अपना देश ‘कैलासा’, वेबसाइट बना घोषित किया हिंदू राष्ट्र

Nithyananda Declares His Own Country Kailaasa
New Delhi: रेप का आरोप लगने के बाद से फरार बाबा नित्यानंद (Swami Nithyananda Island) के बारे में एक अहम और दिलचस्प खुलासा हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि नित्यानंद ने साउथ अमेरिका के एक देश इक्वाडोर से एक आइलैंड (Swami Nithyananda Island) खरीदा है और उसे अपना आजाद देश घोषित कर दिया है। रेप आरोपी नित्यानंद ने इस आजाद देश का नाम ‘कैलासा’ (Nithyananda Declares His Own Country Kailaasa) रखा है। इसके नाम की एक वेबसाइट भी बनाई गई है, जिसमें ‘कैलासा’ को हिंदू राष्ट्र बताया गया है।

कैलासा की वेबसाइट के अनुसार, ‘यह आइलैंड त्रिनिदाद और टोबैगो देशों के पास है। इसमें किसी एक देश की तरह तमाम सरकारी पदों पर लोग नियुक्त किए गए हैं। जैसे- प्रधानमंत्री, कैबिनेट मंत्री, सेना प्रमुख और अन्य।’ नित्यानंद ने अपने एक करीबी अनुयायी ‘मा’ को प्रधानमंत्री नियुक्त किया है। वेबसाइट पर संविधान और सरकारी ढांचे की जानकारी दी गई है।

राष्ट्रीय चिह्नों का भी ऐलान, नागरिक बनने के भी प्रावधान

कई सारे मंत्रालय, विभाग और एजेंसी बनाने का भी दावा है। इतना ही नहीं नित्यानंद ने अपने देश का अलग झंडा भी बनाया है। राष्ट्रीय पशु, राष्ट्रीय पक्षी, राष्ट्रीय फूल और राष्ट्रीय पेड़ जैसी चीजों का ऐलान भी किया गया है। यह भी बताया गया है कि अगर कोई यहां का नागरिक बनना चाहता है तो डोनेशन देकर वहां रहने आ सकता है।

मानवता बताया कैलासा का मकसद

वेबसाइट में बताया गया है कि कैलासा एक गैर-राजनीतिक देश है और मानवता उसका मकसद है। यह देश हिंदू धर्म की सभ्यता और संस्कृति के अनुसार चलेगा, जोकि कई देशों से विलुप्त हो रही है।

पासपोर्ट और झंडा भी किया जारी

‘कैलासा’ के लिए पासपोर्ट के दो तरह के पासपोर्ट बनाए गए हैं। एक सुनहरे रंग का और दूसरा लाल। झंडे का रंग मैरून है। इस पर दो प्रतीक हैं- एक सिंहासन पर नित्यानंद और दूसरे पर एक नंदी है।

देश छोड़ भागा था नित्यानंद

अनुयायियों के साथ बलात्कार और बच्चों को अगवा करने का आरोपित नित्यानंद देश छोड़कर भाग चुका है। गुजरात पुलिस ने यह कहा था। उसे वापस लाने के लिए पुलिस विदेश मंत्रालय के साथ काम कर रही है।