मोदी का सोशल मीडिया से मोहभंग, BJP परेशान.. समर्थक हैरान, आखिर क्या है वजह

PM Narendra Modi
New Delhi: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कल ऐलान किया है कि वह सोशल मीडिया को छोड़ सकते हैं। टेक सेवी पीएम के इस ऐलान के बाद सोशल मीडिया पर भूचाल आ गया। खुद उनकी पार्टी बीजेपी से लेकर आम लोग तक हैरान हैं। पीएम के सोशल मीडिया छोड़ने पर तरह-तरह के कयास लगाए जाने लगे।

चर्चा होने लगी कि ऐसी कौन सी वजह है जिसके कारण पीएम (PM Narendra Modi) ने यह बात कही? यह भी कहा जा रहा है कि कहीं पीएम मोदी कोई संदेश तो नहीं देना चाहते हैं? ट्विटर और फेसबुक पर मोदी के जबरदस्त फॉलोअर हैं।

ऐसे में उनका यह ऐलान चौंकाने वाला है। पीएम मोदी (PM Narendra Modi) का सोशल मीडिया पर जबरदस्त उपस्थिति है। वह लोगों से इसके जरिए सीधा संवाद करते हैं। ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर उनके करोड़ों फॉलोअर्स हैं।

केवल कुछ दिन के लिए छोड़ेंगे सोशल मीडिया?

सरकारी अधिकारियों ने पीएम (PM Narendra Modi) के सोशल मीडिया छोड़ने के ऐलान के कारणों को लेकर चुप्पी साध रखी है। अधिकारियों ने बस इतना बताया कि पीएम खुद एक-दो दिन में इस बारे में बताएंगे। अभी यह भी साफ नहीं है कि करोड़ों लोगों से सीधा संवाद के लिए सोशल मीडिया का प्रयोग करने वाले पीएम मोदी केवल कुछ दिन के लिए इसे छोड़ेंगे या फिर लंबे समय क लिए यहां नहीं दिखेंगे।

क्या पीएमओ भी छोड़ेंगे?

बड़ा सवाल है कि क्या पीएम मोदी प्रधानमंत्री ऑफिस का आधिकारिक ट्विटर हैंडल @PMOIndia भी छोड़ देंगे। इस हैंडल के जरिए सरकार के कार्यक्रमों और अन्य चीजों के बारे में जानकारी दी जाती है।

कहीं डिजिटल उपवास तो नहीं?

सोशल मीडिया पर इस तरह की भी चर्चाएं हैं कि पीएम मोदी कुछ दिन के डिजिटल उपवास पर चले जाएं। पीएम ने पहले भी कई बार एक दिन के लिए या फिर कुछ समय के लिए डिजिटल उपवास रखने की बातें कह चुके हैं। इसमें कुछ समय के लिए फोन, सोशल मीडिया से दूर रहना होता है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या पीएम भी कुछ दिन डिजिटल उपवास पर जाएंगे।

महिला दिवस पर कुछ नया तो नहीं?

पीएम मोदी ने रविवार यानी 8 मार्च को सोशल मीडिया छोड़ने के संकेत दिए हैं। इस दिन अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस है। सोशल मीडिया पर ऐसी भी चर्चाएं हैं कि इस दिन कोई महिला पीएम का सोशल मीडिया अकाउंट चलाए। हालांकि ये सभी अभी कयासबाजी ही हैं। असली बात तो पीएम मोदी जब खुद इस बारे में घोषणा करेंगे तभी पता चलेगी।

सोशल मीडिया के दुरुपयोग पर जता चुके हैं चिंता

पीएम मोदी ने सितंबर 2019 में एक कार्यक्रम में सोशल मीडिया की ताकत और लोकतंत्र में इसके योगदान की सराहना करने के साथ ही इसके दुरुपयोग पर चिंता जाहिर की थी।

उन्होंने कहा, ‘सोशल मीडिया ने सशक्तिकरण के लिए बहुत ताकत दी है। आज कोई भी खबर कोई भी व्यक्ति पहुंचा सकता है। मैं लोकतंत्र के लिए सोशल मीडिया को एक बहुत बड़े टूल के रूप में देखता हूं, लेकिन दुर्भाग्य से संगठित रूप से नकारात्मक चीजों को फैलाने का प्रयास किया जाता है।’

PM ने कहा, ‘अच्छा है कि कुछ मीडिया संस्थानों ने डेली 15 मिनट, आधा घंटा फेक न्यूज को उजागर करने का काम शुरू किया है। धीरे-धीरे सोशल मीडिया और परंपरागत मीडिया यदि फेक न्यूज के नुकसान पर बल देंगी तो स्थित सुधरेगी। दूसरा फॉरवर्ड करने का जो फैशन है, टेक्नॉलजी के लिए कुछ सॉल्यूशन लाना पड़ेगा, कोई न्यूज आता है तो वेरिफिकेशन की कोई संभावना बने।’

सोशल मीडिया के स्टार हैं पीएम मोदी

पीएम मोदी का ट्विटर पर 5.3 करोड़ से ज्यादा फॉलोअर्स हैं। फेसबुक पर पीएम मोदी को 4.4 करोड़ लोग फॉलो करते हैं। इंस्टाग्राम पर पीएम मोदी स्टार हैं और यहां उन्हें 3.5 करोड़ से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं। यूट्यूब पर पीएम मोदी के 45 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।