CM योगी के आदेश पर UP में पान मसाले की बिक्री और उत्पादन पर बैन, ना बनेगा और ना बिकेगा

UP CM banned pan masala

नई दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने पूरे राज्य में पान मसाले पर प्रतिबंध लगा दिया है। योगी सरकार ने पान मसाला के उत्पादन, वितरण और बिक्री पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश के कई शहरों में पान मसाला का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है। इनमें कानपुर और नोएडा प्रमुख हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा

मंगलवार को उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि गुटखा, पान मसाला और पान पर प्रतिबंध लगाया जाए।

उन्होंने कहा कि लोग गुटखा और पान मसाला खाकर सरकारी दफ्तरों, बाजारों और सार्वजनिक स्थानों में थूकते हैं। इससे गंदगी तो फैलती ही है, इस वक्त कोरोना वायरस के संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है।

पहले भी लगाया था बैन

योगी आदित्यनाथ 2017 में जब उत्तर प्रदेश के सीएम बने थे उस वक्त भी उन्होंने राज्य में पान-गुटखा पर बैन लगा दिया था। लेकिन शुरूआती सख्ती के बाद राज्य में एक बार फिर से पान-गुटखे की बिक्री शुरू हो गई थी। अब कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने ये फैसला लिया है।

अगले आदेश तक रहेगा बैन

सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद बुधवार को राज्य सरकार ने पान मसाला के उत्पादन, वितरण और बिक्री पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। ये रोक अगले आदेश तक जारी रहेगी।

कोरोना वायरस की वजह से यूपी सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे घरों से एकदम बाहर न निकलें। योगी सरकार ने कहा है कि यूपी प्रशासन लोगों के घरों तक सामान पहुंचाएगा।