पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में करें निवेश, हर महीने होगी बंपर कमाई

कोरोना काल के बाद से लोग अपना पैसा निवेश करने को लेकर खास रूप से सतर्क हो गए हैं। बैंक की तरह पोस्ट ऑफिस (Post office investment Scheme) में निवेश करना भी हमेशा सु​रक्षित रहा है।
 
पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में करें निवेश, हर महीने होगी बंपर कमाई

नई दिल्ली। आम आदमी के लिए बचत उसके मुश्किल समय में काफी काम आती है। खासकर कोरोना काल के बाद से लोग अपना पैसा निवेश करने को लेकर खास रूप से सतर्क हो गए हैं। बैंक की तरह पोस्ट ऑफिस (Post office investment Scheme) में निवेश करना भी हमेशा सु​रक्षित रहा है। यहां आपकी रकम ना सिर्फ सुरक्षित रहती है, बल्कि आपको बैंक से बेहतर रिटर्न भी मिलता है। 

हर महीने कमाई वाली स्कीम

पोस्ट ऑफिस (Post office investment Scheme) की ऐसी ही एक स्कीम है मंथली इनकम स्कीम जिसे पोमिस (POMIS) भी कहा जाता है। यह एक सरकारी स्मॉल सेविंग्स स्कीम है, जो आपको हर महीने कमाई का मौका देती है। इस स्कीम में निवेश करने से हर महीने आपको एक तय राशि की कमाई होती है। इस स्कीम के तहत आप सिंगल या फिर जॉइंट अकाउंट खुलवा सकते हैं और एकमुश्त राशि जमा कर सकते हैं।

इस अकाउंट (Post office investment Scheme) में निवेश की गई राशि के हिसाब से आपके खाते में हर महीने कमाई की रकम आती रहती है। यह योजना यूं तो 5 साल की है। यानी इसकी मैच्योरिटी 5 साल में पूरी होती है, लेकिन इसे आगे भी 5-5 सालों के लिए बढ़ाया जा सकता है।

100 फुीसदी सुरक्षित है पैसा

पोस्ट ऑफिस की योजनाओं (Post office investment Scheme) में आपके निवेश पर कोई खतरा भी नहीं रहता है। यहां आपके निवेश पर सरकारी सुरक्षा की 100 फीसदी गारंटी होती है। पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में कोई भी भारतीय नागरिक निवेश कर सकता है। 

ऐसे खुलवाएं खाता

इस स्कीम के तहत खाता खुलवाने के लिए पोस्ट ऑफिस (Post office investment Scheme) में आपका सेविंग अकाउंट होना जरूरी है। इसके लिए आपको आईडी प्रूफ देना होगा। आप इसके लिए आधार कार्ड, वोटर आईडी, डीएल या पासपोर्ट वगैरह देना होगा। इसके साथ ही आपको 2 पासपोर्ट साइज फोटो की भी जरूरत पड़ेगी। एड्रेस प्रूफ के लिए आप सरकारी विभाग द्वारा जारी आईडी कार्ड, बिजली बिल, नगर निगम बिल, निवास प्रमाण पत्र या अन्य प्रूफ दे सकते हैं।

कितनी राशि निवेश कर सकते हैं?

डाकघर की इस मंथली इनकम स्कीम (Post office investment Scheme) में सिंगल और जॉइंट दोनों तरह के अकाउंट खुलवा सकते हैं। सिंगल अ​काउंट में अधिकतम 4.5 लाख रुपये निवेश कर सकते हैं, जबकि जॉइंट अकाउंट में अधिकतम 9 लाख रुपये तक का निवेश किया जा सकता है। जॉइंट अकाउंट में 2 की बजाय 3 व्यस्क भी हो सकते हैं, लेकिन निवेश की ​सीमा 9 लाख ही है।

फॉर्म भरते समय देना होगा नॉमिनी का नाम

इन डॉक्युमेंट को लेकर आपको डाकघर जाना होगा और वहां पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (Post office investment Scheme) का फॉर्म भरना होगा। इस फॉर्म को ऑनलाइन भी डाउनलोड किया जा सकता है। और फिर प्रिंट कर के भर सकते हैं। इस फॉर्म को भर कर सभी डॉक्युमेंट के साथ जमा कर आप यह खाता खुलवा सकते हैं। फॉर्म भरते समय आपको नॉमिनी का नाम भी देना होगा। खाता खुलवाते समय शुरू में 1000 रुपये कैश या चेक के जरिए जमा करना होगा।

कितना मिलता है फायदा?

सरकार ने मौजूदा तिमाही के लिए पोस्ट ऑफिस मंथली (Post office investment Scheme) इनकम स्कीम के लिए 6​.6​ फीसदी सालाना ब्याज दर तय की है। जैसे मान लीजिए कि आपने ज्वॉइंट अकाउंट के जरिए पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में 9 लाख रुपये जमा किए हैं। अब इस रकम पर 6.6 फीसदी सालाना ब्याज दर के हिसाब से आपके हिस्से में कुल ब्याज 59,400 रुपये होगा।

इस रकम को साल के 12 महीनों में बांट दिया जाए तो इस तरह हर महीने का ब्याज लगभग 4950 रुपये होगा। वहीं, सिंगल अकाउंट के जरिए 4,50,000 लाख रुपये के निवेश पर आपको हर महीने ब्याज के रूप में 2475 रुपये कमाई होगी।
 

FROM AROUND THE WEB